पंजाब के सीएम का जंतर-मंतर पर प्रदर्शन, मोदी सरकार पर साधा निशाना

केंद्र सरकार के हाल ही में पारित किए गए कृषि बिल के खिलाफ पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरने में बैठ गए।

0
179
Agriculture Law
पंजाब के सीएम का जंतक-मंतर पर प्रदर्शन, मोदी सरकार पर साधा निशाना

New Delhi: केंद्र सरकार के हाल ही में पारित किए गए कृषि बिल (Agriculture Law) के खिलाफ पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरने में बैठ गए। इस धरना प्रदर्शन में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) के अलावा उनकी सरकार के पूर्व मंत्री व कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिद्दू (Navjot Singh Sidhu) वही कांग्रेसी के अन्य नेता भी मौजूद ।

बता दें कि पंजाब सरकार के प्रतिनिधिमंडल को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा मुलाकात के लिए समय दिए जाने से इनकार करने के बाद ये धरना किया गया। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जंतर-मंतर पर धरना के दौरान मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैंने यह स्पष्ट कर दिया है कि केंद्र का हमारे किसानों के प्रति रवैया और राज्य के अधिकारों को कम आंकना सही नहीं है।

कृषि बिल पर किसानों का रोष जारी, प्रदर्शन में योगेंद्र यादव शामिल

उन्होंने मोदी सरकार (Modi Government) को निशाना साधा और कहा कि ‘हम न्याय चाहते हैं। अगर आप हमारी आजीविका छीनते हैं तो यह अच्छी बात नहीं होगी। हमारी ट्रेनों और मालगाड़ियों को रोक दिया गया है। कोयले की सप्लाई न होने से पंजाब के सभी पावर प्लांट आज बंद हैं।’ अमरिंदर सिंह ने कहा कि हम राष्ट्रीय ग्रिड से उन फंडों से बिजली खरीद रहे हैं जिनके साथ हम बचे हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में, मेरे राज्य और मेरे लोगों के अधिकारों की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आगे कहा, ‘हमारे जवान सियाचिन में बैठे हैं। हम कुछ ऐसा नहीं करेंगे जो देश के खिलाफ हो। हम केंद्र के खिलाफ बोलना नहीं चाहते थे या ऐसी कोई भी बात नहीं कर रहे थे जिसे राष्ट्र विरोधी माना जाए। हमारे लोग सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं।’ सीएम ने कहा कि गुरेज, द्रास, लेह, लद्दाख, चुसुल और गलवान सब जगह पंजाबी बैठे हैं।

केदारनाथ में हुई भारी बर्फबारी, पूरा इलाका सफेद चादर में लिपटा नजर आया

बता दें कि पंजाब विधानसभी केंद्र के तीन नए कानूनों (Agriculture Law) को 19 अक्टूबर को ब्लॉक करने वाले तीन नए बिल पास किए गए थे। जिसके बाद पंजाब में किसानों का विरोध प्रदर्शन कुछ शांत पड़ा था, लेकिन केंद्र ने कुछ दिनों पहले पंजाब में रेल रोको आंदोलन का हवाला देते हुए पंजाब जाने वाली ट्रेनें रोक दी थीं। जिसको लेकर किसानों में फिर से गुस्सा पैदा हो गया था।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here