कोवैक्सीन का ट्रायल डोज लगाने के 9 दिन बाद हुई मौत! जांच शुरू

पीपुल्स मेडिकल कॉलेज में मजदूर 47 वर्षीय दीपक मरावी ने कोवैक्सीन का ट्रायल टीका लगवाया था, जिसके बाद उसकी मौत हो गई है।

0
259
Corona Vaccination
केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, अब इन लोगों को लगेगा कोरोना का टीका

Madhya Pradesh: भोपाल में एक दिहाड़ी मजदूर की मौत से हड़कं मच गया है। 12 दिसंबर को पीपुल्स मेडिकल कॉलेज में मजदूर दीपक मरावी ने कोवैक्सीन का ट्रायल टीका (Covid 19 Vaccine) लगवाया था, जिसके बाद 21 दिसंबर को 47 वर्षीय दीपक की मौत हो गई है। इस मौत का खुलासा 8 फरवरी को मजदूर के बेटे ने किया। परिवार का आरोप है कि उनकी मौत कोरोना वैक्सीन की वजह से हुई है।

ड्राई रन की हुई शुरुआत, टीका लगाने के बाद 30 मिनट निगरानी में रखा

बता दें कि 21 दिसंबर को दीपक मरावी का शव उनके घर पर (Madhya Pradesh News) मिला था, उनके परिवार का आरोप है कि उनकी मौत कोरोना वैक्सीन की वजह से हुई है लेकिन 22 दिसंबर को शुरुआती पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण जहर बताया गया है। फिलहाल इसकी अंतीम रिपोर्ट अभी आना बाकी है। इसके आने के बाद ही पता चलेगा कि मौत का कारण कोवैक्सीन का ट्रायल डोज है या नहीं। मृतक दीपक मरावी भोपाल गैस कांड के पीड़ित भी थे।

वैक्सीनेशन से पहले देश के इन जिलों में एक साथ हुआ ड्राई रन…

इस मामले पर पुलिस मे अपनी जांच शुरू कर दी है। परिवार वालों के आरोप के मुताबिक ये कोवैक्सीन (Covid 19 Vaccine) के ट्रायल में मौत का देश में संभवतः पहला मामला है। बेटे ने इस घटना के बारे में बताया कि पिता का हाल जानने के लिए पीपुल्स मेडिकल कॉलेज से नियमित फोन आए। उनकी मौत के बाद भी हॉस्पिटल से 2-3 बार फोन आया, लेकिन उन्हें देखने के लिए कोई नहीं आया।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here