कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र का बयान, नागरिकों के अधिकारों पर जताई चिंता…

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) ने  जम्मू-कश्मीर के हालात पर चिंता व्यक्त की है। यूएन ने मंगलवार को कहा, 'घाटी के लोग अधिकारों से वंचित हैं और हमने भारतीय अधिकारियों से मांग की है कि कश्मीर में नागरिकों के सभी अधिकार बहाल करें।'

0
812
प्रतीकात्मक फोटो

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) ने  जम्मू-कश्मीर के हालात पर चिंता व्यक्त की है। यूएन ने मंगलवार को कहा, ‘घाटी के लोग अधिकारों से वंचित हैं और हमने भारतीय अधिकारियों से मांग की है कि कश्मीर में नागरिकों के सभी अधिकार बहाल करें।’

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र कश्मार को लेकर जहां एक ओर चिंता व्यक्त की है वहीं दूसरी ओर भारत सरकार की तारीफ भी की है।

यूएन ने भारत सरकार की तारीफ करते हुए कहा, कश्मीर में सुधार के लिए भारत ने कई कदम उठाए हैं। मानव अधिकारों के लिए संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त के प्रवक्ता रूपर्ट कोल्विले ने कहा कि हम बहुत चिंतित हैं कि कश्मीर में लोग अधिकारों से वंचित हैं।  हम भारत से अधिकारों को पूरी तरह से बहाल करने की अपील करते हैं।

उल्लेखनीय है कि जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने वाला अनुच्छेद 370 भारतीय संसद ने 5 अगस्त को हटाए दिया था। इसी के साथ वहां पर सुरक्षा के लिहाज से कई पाबंदिया भी लगाई गईं थी।

अनुच्छेद 370 हटाने के साथ ही जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया था। बता दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान इतना  बौखला गया कि उसने पहले अधिक सीजफायर का उल्लंघन की वारदातों को अंजाम देना शखुरू कर दिया।

पाकिस्तान ने कश्मीर से 370 हटने पर अंतरराष्ट्रीय मंचों वहां के लोगों के अधिकारों के हनन का आरोप लगाया, लेकिन भारत सरकार ने अपना पक्ष रखा तो पाक के झूठ को हर मंच पर मुह की खानी पड़ी। भारत कई बार साफ कर चुका है कि कश्मीर उसका आंतरिक मामला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here