डीडीसी के लिए वोटिंग जारी, कड़ाके की ठंड में वोट डालने पहुंचे वोटर्स

जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार DDC के लिए चुनाव होने जा रहे हैं। आज सुबह से ही मतदान केंद्रों में वोट डालने के लिए लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है।

0
309
Jammu Kashmir DDC Election
डीडीसी के लिए वोटिंग जारी, कड़ाके की ठंड में वोट डालने पहुंचे वोटर्स

Jammu Kashmir: अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट काउंसिल (DDC) के लिए चुनाव हो रहे है। आज सुबह से ही मतदान केंद्रों में वोट डालने के लिए लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है। पहले चरण और पंचायत उपचुनावों के लिए मतदान शुरू (Jammu-Kashmir DDC Election) हो गए हैं। पहले चरण में यह मतदान 43 सीटों के लिए हो रहा है। इनमें जम्मू की 18 और कश्मीर की 25 सीटें शामिल हैं। इसके साथ ही कुछ इलाकों में पंचायत उपचुनाव के लिए भी वोटिंग हो रही है। पहले चरण में करीब 296 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।

पंच और सरपंच के उपचुनाव के लिए कुल 1179 प्रत्याशी मैदान में उतरे हैं, जिनमें 899 पंच और 280 प्रत्याशी सरपंच पद के है। पहले चरण की वोटिंग (Jammu-Kashmir DDC Election) आज दोपहर 2 बजे तक चलेंगी। जम्मू-कश्मीर में कड़ाके की ठंड और कोरोना वायरस महामारी के बावजूद लोग वोट डालने पहुंच रहे है। बता दें कि पहले चरण के लिए 2,146 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

PDP को लगा बड़ा झटका, संस्थापक ने छोड़ी पार्टी

राज्य सरकार का अब यहां दावा है कि पंचायत, BDC और उसके बाद अब हो रहे DDC चुनाव से थ्री टियर सिस्टम पूरी तरह लागू हो गया है। जम्मू कश्मीर में कुल 20 जिले हैं और हर जिले में DDC के लिए 14 क्षेत्र बनाए गए हैं। यूटी में कुल 280 सीटों के लिए चुनाव होगा। जिसके लिए राज्य में खासा उत्साह भी देखा जा रहा है। यह चुनाव अपने आप में खास है क्योंकि, स्पेशल स्टेटस स्टेट से यूटी बनने के बाद पहली बार यहां वोटिंग हो रही है।

जानकारी के लिए बता दें कि जिला विकास परिषद के इस चुनाव में गुपकार गठबंधन के दल भी चुनाव लड़ रहे हैं। इसके अलावा कांग्रेस, बीजेपी और जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी भी चुनावी मैदान में है। जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir News) के इतिहास में यह पहली बार है, जब राज्य की 6 प्रमुख पार्टियां एकसाथ मिलकर चुनावी मैदान में उतरी हैं। इनमें नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीडीपी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस, जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट और माकपा शामिल है।

महबूबा ने दिया भड़काऊ बयान, जानें क्या कहा

इससे पहले यहां 2018 में नवंबर-दिसंबर को पंचायती चुनाव हुए थे। इनमें 33 हजार 592 पंच सीटों पर 22 हजार 214 प्रत्याशी और 4,290 सरपंच पदों पर 3,459 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की थी। बाकी सीटें खाली रह गई थी, जहां अब उप चुनाव हो रहे हैं।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here