2002 गुजरात दंगे मामले में 17 दोषियों को SC ने इस शर्त पर दी जमानत

सुप्रीम कोर्ट ने 2002 गुजरात दंगे मामले में 17 दोषियों को सशर्त जमानत देते हुए सामाजिक कार्य करने को कहा है। कोर्ट ने सभी दोषियों को दो अलग-अलग बैच में रखा है। एक बैच को कोर्ट ने इंदैार और एक को जबलपुर भपेजा है।

0
826

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने 2002 गुजरात दंगे मामले में 17 दोषियों को सशर्त जमानत देते हुए सामाजिक कार्य करने को कहा है। कोर्ट ने सभी दोषियों को दो अलग-अलग बैच में रखा है। एक बैच को कोर्ट ने इंदैार और एक को जबलपुर भपेजा है।

सुप्रीम कोर्ट ने जबलपुर और इंदौर के विधिक अधिकारियों कहा है कि वह दोषियों को जमानत की अवधि के दौरान आध्यात्मिक और सामाजिक कार्य करना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही कोर्ट ने कहा है कि वो अपनी आजीविका के लिए भी कार्य करें। वहीं, जमानत की अवधि के दौरान दोषियों के व्यवहार और आचरण की रिपोर्ट देने के लिए भी अधिकारियों को आदेश दिया है।

गौरतलब है कि गोधरा कांड के बाद गुजरात में कई जगहों पर दंगे हुए थे। इन दंगों में 33 से ज्यादा लोगों की मौत हुए थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here