कृषि कानूनों के विरोध में आज से पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र, विपक्ष ने किया प्रदर्शन

नए कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में आज से दो दिन का विधानसभा का सत्र शुरू हो गया है। संसद में लाए गए किसान बिल का देशभर के किसान विरोध कर रहे हैं।

0
186
Agriculture Law
पंजाब के सीएम का जंतक-मंतर पर प्रदर्शन, मोदी सरकार पर साधा निशाना

Chandigarh: नए कृषि कानूनों (Krishi Bill) के विरोध में पंजाब में आज से दो दिन का विधानसभा का सत्र शुरू हो गया है। संसद के मानसून सत्र में लाए गए नए किसान बिल (Farm Laws 2020) का देशभर के किसान विरोध कर रहे हैं। सत्र शुरू होने से पहले सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) ने कहा कि केंद्र के किसान विरोधी कानूनों से पंजाब की कृषि और किसान के हितों की रक्षा के लिए चर्चा की जाएगी।

अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, ‘आज से शुरू हो रहे महत्वपूर्ण विशेष सत्र के लिए विधानसभा पहुंच गया हूं। हम केंद्र के किसान विरोधी कानूनों से पंजाब की खेती को बचाने और हमारे हितों की रक्षा के लिए चर्चा और बहस करने के लिए मिल रहे हैं।’ हालांकि विपक्ष अकाली दल और आम आदमी पार्टी सत्र को लेकर पंजाब सरकार के विरोध में उतर आए हैं।

तेजस्वी यादव ने कहा नीतीश कुमार ने चिराग के साथ किया अन्याय, जानें क्यों

आम आदमी पार्टी (AAP) के नेताओं ने काले कपड़े पहनकर पंजाब सरकार का विरोध किया। पार्टी ने कृषि कानूनों (Farm Laws 2020) के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने की मांग की। आप विधायक हरपाल सिंह चीमा ने कहा, ‘पंजाब सरकार इन काले कानूनों के विरोध कर रही हैं। बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राहुल गांधी के साथ मिलकर यह संकल्प लिया कि किसान विरोधी काले खेती कानूनों को रद्द करवाने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव डाला जाएगा।

कृषि बिल के खिलाफ भारत बंद, सड़कों पर उतरे किसान

वहीं दूसरी ओर नए कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में किसान संगठनों का रेल रोको आंदोलन और भी ज्यादा तेज होता जा रहा है। किसान आंदोलन की वजह से भारतीय रेलवे को अब तक कई ट्रेनें रद्द करनी पड़ी हैं। बता दें कि यह आंदोलन पंजाब में एक अक्टूबर से जारी है।

पॉलिटिकल से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Political News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here