तीस हजारी कोर्ट में हिंसक झड़प, फायरिंग के बाद वकीलों ने पुलिस को पीटा !

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में दो पक्षों के बीच विवाद की खबर है। जानकारी के अनुसार, शनिवार दोपहर को वकीलों और पुलिस के बीच मामूली विवाद हो गया। दोनों पक्षों में हुई झड़प हिंसा में तब्दील हो गई।

0
754
प्रतीकात्मक फोटो

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में दो पक्षों के बीच विवाद की खबर है। जानकारी के अनुसार, शनिवार दोपहर को वकीलों और पुलिस के बीच मामूली विवाद हो गया। दोनों पक्षों में हुई झड़प हिंसा में तब्दील हो गई।

मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने फायरिंग की गई। विवाद के दौरान कुछ गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया। प्रशासन ने स्थिति को देखते हुए एहतियातन उत्तरी जिले के कई थानों से पुलिस बलों को मौके पर पहुंचने के आदेस दिए हैं।

पुलिस की फायरिंग में एक शख्स को गोली लगी है, जिसका नाम विजय वर्मा (वकील) बताया जा रहा है। जिनको तत्काल नजदीक के सेंट स्टीफेंस अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, मामले को लेकर वकीलों का कहना है कि दिल्ली पुलिस ने एक वकील को रोका और कहा कि लॉकअप के सामने गाड़ी क्यों लगाई, वकीलों का आरोप है कि पुलिस ने वकील को पीटा।

बवाल के दौरान पुलिस ने वकील को गोली मार दी। वकील अस्पताल में भर्ती है। हालांकि, दिल्ली पुलिस का कहना है कि फायरिंग जैसी कोई घटना नहीं हुई। पुलिस की गाड़ी जरूर जलाई गई है, बवाल किस बात पर हुआ इसकी जांच की जा रही है।

बताया जा रहा है कि लॉक अप के बाहर तीसरी बटालियन की पुलिस और वकीलों के बीच झगड़ा हुआ है। ये पुलिस कैदियों को कोर्ट लाने और ले जाने का काम करती है। मिली खबर के मुताबिक, पार्किंग को लेकर हुई मामूली बहस में पुलिस की ओर से फायरिंग हुई, अपने साथी विजय शर्मा को गोली लगने के बाद गुस्साए वकीलों ने हंगामा शुरू कर दिया है।

खबर के अनुसार, पुलिस द्वारा वकील को गोली मारने पर सभी वकीलों ने एक जुट होकर गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया, पुलिस के कुछ अफसरों की पिटाई भी की। इतना ही नहीं तीस हजारी कोर्ट परिसर में स्थिति ये थी कि जो भी पुलिस वाला दिखा उसे दौड़ा-दौड़ाकर वकीलों ने पीटा। वकीलों की दहशत के चलते पुलिस वाले मौदान छोड़कर भागे। खबर के अनुसार, गुस्साए वकीलों ने मीडिया वालों के कैमरे व मोबाइल फोन भी छीनकर तोड़ दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here