किसान बिल की आंच दिल्ली से हरियाणा तक लगी, ट्रैक्टर फूका

कृषि बिल के विरोध में आज सुबह इंडिया गेट पर कई लोगों ने जमकर हंगामा किया, साथ ही ट्रेक्टर को आग के हवाले कर दिया।

0
192
Farm Bill 2020
कृषि बिल के विरोध में आज सुबह इंडिया गेट पर कई लोगों ने जमकर हंगामा किया, साथ ही ट्रेक्टर को आग के हवाले कर दिया।

New Delhi- कृषि बिल के विरोध में आज सुबह इंडिया गेट पर कई लोगों ने जमकर (Farm Bill 2020) हंगामा किया, साथ ही ट्रेक्टर को आग के हवाले कर दिया। किसान बिल के विरोध में हरियाणा से दिल्ली तक लोगों में रोष देखने को मिल रहा है और विरोध प्रदर्शन दिल्ली के इंडिया गेट तक पहुंच गया। बताया जा रहा है कि जिस ट्रेक्टर को आग के हवाले किया गया है वो ट्रेक्टर लोग अपने गांव से लेकर आए थे।

एक तरफ किसानों का गुस्सा सरकार पर फूटता हुआ नजर आ रहा, तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी का कहना है कि यह धीमा जहर किसानों को गुलाम बना देगाकृषि विधेयक बिल पूरी तरह जहर (Farm Bill 2020) की तरह खेतों को खत्म करने के लिए बनाया गया है। इस बिल को लाकर बीजेपी सरकार किसानों की मुश्किले और भी ज्यादा बढ़ा रही है।

“ये NDA वाजपेयी और बादल साहब की नहीं है’- हरसिमरत कौर

पुलिस के माने तो ट्रैक्टर में आग लगाने के बाद जमकर नारेबाजी की गई थी। इतना ही नही विरोध (Farm Bill 2020) करने वाले लोगों ने ‘कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद’ के नारे भी लगाए थे। दमकल विभाग ने ट्रेक्टर की आग बुझाई अब पुलिस यह जानकारी जुटाने की कोशिश में है कि य़ह लोग कौन थे। बताते चलें कि पूरे देश में किसान बिल के विरोध में किसान प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

कृषि बिल को लेकर विरोध जारी, उपचुनाव में किसका साथ देंगे किसान?

रविवार को भी देश के कई हिस्सों में किसानों और राजनीतिक दलों ने कृषि कानून के खिलाफ जमकर प्रदर्शन (Farm Bill 2020) किया था। बता दें कि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने तीन कृषि विधेयकों को मंजूरी दे दी है। ये विधेयक हैं- 1) किसान उपज व्‍यापार एवं वाणिज्‍य (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक, 2020, 2) किसान (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) मूल्‍य आश्‍वासन अनुबंध एवं कृषि सेवाएं विधेयक, 2020 और 3) आवश्‍यक वस्‍तु (संशोधन) विधेयक, 2020. किसान उत्पाद व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक, 2020 का उद्देश्य विभिन्न राज्य विधानसभाओं द्वारा गठित कृषि उपज विपणन समितियों (एपीएमसी) द्वारा मंडियों के बाहर कृषि उपज की बिक्री की अनुमति देना है।

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here