JNU छात्रों के प्रदर्शन पर दर्ज की गई FIR, कानून उल्लंघन का लगाया आरोप…

दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (JNU) में हॉस्टल की फीस बढ़ोतरी पर प्रदर्शन जारी है। सोमवार को सड़कों पर JNU के छात्रों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान दिल्ली पुलिस और छात्रों के बीच झड़प हुई, जिसमें कई छात्र घायल भी हो गए हैं। कानून का उल्लंघन करने के आरोप में अब किशनगढ़ थाने में अज्ञात छात्रों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

0
823
JNU Protest

दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (JNU) में हॉस्टल की फीस बढ़ोतरी पर प्रदर्शन जारी है। सोमवार को सड़कों पर JNU के छात्रों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान दिल्ली पुलिस और छात्रों के बीच झड़प हुई, जिसमें कई छात्र घायल भी हो गए हैं। कानून का उल्लंघन करने के आरोप में अब किशनगढ़ थाने में अज्ञात छात्रों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

गौरतलब है कि सोमवार को धारा 144 होने के बावजूद सैकड़ों की संख्या में छात्र सड़कों पर उतरे थे । इस दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज की थी, जिसमें कई छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए थे। छात्रों के प्रदर्शन के चलते मंगलवार को भी जेएनयू का शैक्षणिक कामकाज बंद रहा । इसके अलावा एडमिन ब्लॉक में भी प्रदर्शन का असर पड़ रहा है।

जेएनयू के छात्रों ने सोमवार देर शाम को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय के अधिकारियों से मुलाकात की थी। हालांकि, आश्वासन से JNU छात्र संतुष्ट नहीं हैं। मालूम हो क सोमवार को जब छात्र दिल्ली की सड़कों पर उतरे तो राजधानी का आवागमन थम गया ।

हजारों की संख्या में छात्र सड़क पर उतरे तो पुलिस ने लाठीचार्ज की, इस दौरान सैकड़ों छात्रों को हिरासत में भी लिया गया। कई छात्र खून से लथपथ हो गए । दरअसल, प्रदर्शनकारी सभी छात्र संसद की ओर जाने का प्रयास कर रहे थे, हालांकि, दिल्ली पुलिस ने छात्रों को आगे जाने से रोक दिया।

JNU छात्रों के प्रदर्शन करने की वजह से दिल्ली मेट्रो के कई स्टेशन को बंद किया गया था, बाद में देर रात को इन्हें खोल गया था। JNU में हॉस्टल फीस में हुई बढ़ोतरी के कारण छात्र सड़कों पर उतरे और अपनी मांग को सरकार के सामने रखा।

ये हैें छात्रों की मांगें…

1. इनमें हॉस्टल फीस, नए नियमों के आदेश को वापस लेना और फिर पहले की तरह बहाल करने की मांग..

2. JNU प्रशासन और छात्रों के बीच बातचीत का सिलसिला शुरू करने की मांग…

3. हॉस्टल के पुराने नियमों को बहाल किया जाए…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here