दिल्ली में नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला, 24 घंटे में 118 लोगों की हुई मौत

दिल्ली में 6,608 दर्ज की गई है, जबकि गुरुवार को 7,546 की गई थी। पिछले 24 घंटे में कोरोना से 118 मरीजों की मौत हो गई है।

0
126
Covid-19 Update
दिल्ली में 6,608 दर्ज की गई है, जबकि गुरुवार को 7,546 की गई थी। पिछले 24 घंटे में कोरोना से 118 मरीजों की मौत हो गई है।

New Delhi: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण (Covid-19 Update) का खतरा थमने का नाम नही ले रहा। शुक्रवार को 938 मामले सामने आए है। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की सख्या दिल्ली में 6,608 दर्ज की गई है, जबकि गुरुवार को 7,546 की गई थी। और अगर पिछले 24 घंटे की बात की जाए तो कोरोना से 118 मरीजों की मौत हो गई है। यह आंकड़ा गुरुवार को दर्ज किए गए आंकड़े से ज्यादा है। गुरुवार को दिल्ली में कोरोना से 24 घंटे में कुल 98 मरीजों (Covid-19 Update) की मौत हुई थी। 

दिल्ली में मास्क नहीं लगाना पड़ सकता है भारी, इतने का लगेगा जुर्माना

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन से कोरोना खत्म (Covid-19 Update) नहीं हो सकता है। लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण को तेजी से फैलने में देरी हो सकती है, जिस दिन सबकुछ खुलेगा उस दिन से वह फिर तेजी से बढ़ेगा। सीएम केजरीवाल ने कोविड, प्रदूषण, दिल्ली सरकार की प्राथमिकताओं के साथ राष्ट्रीय राजनीति में आम आदमी पार्टी की भूमिका पर बात की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का समय खत्म हो गया है। देश को वैकल्पिक राजनीति को चुनना होगा।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब देश में लॉकडाउन लगा तो वह सही (Covid-19 Update) समय था। क्योंकि हमें उस समय पता नहीं था कि पीपीई किट क्या होता है। जांच क्या होती है। ये कैसे मिलेगा। पीपीई किट के लिए एक कंपनी के पीछे सभी सरकारें लगी हुई थी। हमें उस दौरान तैयारी करने का, समझने का समय मिला। फिर से लॉकडाउन पर सीएम केजरीवाल ने कहा कि राज्य सरकारों को अपने स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा करनी चाहिए। मान लीजिए केस बढ़ रहे है बेड नहीं बचे है। उस समय हमें लॉकडाउन लगा देना चाहिए। लॉकडाउन के दौरान हम बेड बढ़ा लेंगे। जैसे ही हम स्वास्थ्य सेवाएं फिर बढ़ जाएगी वैसे ही लॉकडाउन खत्म कर दूंगा। 

दिल्ली में कोरोना से हाल बेहाल, रोजगार के लिए वापिस लौटे प्रवासी मजदूर

दिल्ली में सर्वे के लिए घर-घर पहुंचेगी टीमें-

देश की राजधानी दिल्ली में शुक्रवार से कोरोना को लेकर घर-घर सर्वे करना शुरु कर दिया गया है। कोरोना को लेकर होने वाला यह अब तक का सबसे बड़ा सर्वे होगा। गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के बीच हुई बैठक में इस सर्वे पर सहमति बनी थी। सर्वे के दौरान 9500 टीमें 13-14 लाख घरों में जाएंगी। हर टीम में 2 से 5 लोग होंगे। यह दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की टीमें होंगी। दिल्ली के 11 ज़िलों में करीब 57 लाख लोगों की सर्वे के दौरन जांच की जाएगी। खास बात यह है कि ज्यादा आबादी और कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोगों का भी सर्वे होगा। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here