दिल्ली में कम हुई कोरोना की लहर, जानें आंकड़े

कोरोना के चलते हाई कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक चिंता का महौल चल रहा था, लेकिन अब दिल्ली में कोरोना की लहर कम होती जा रही है।

0
238
CoronaVirus
कोरोना के चलते हाई कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक चिंता का महौल चल रहा था, लेकिन अब दिल्ली में कोरोना की लहर कम होती जा रही है।

New Delhi: दिवाली के बाद से दिल्ली में कोरोना के केस बढ़ते (Corona Alert) जा रहे थे। कोरोना के चलते हाई कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक चिंता का महौल चल रहा था, लेकिन अब दिल्ली में कोरोना की लहर कम होती जा रही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘7 नवंबर के बाद से दिल्ली में कोरोना के प्रतिदिन आने वाले मामलों में कमी हो रही है। शनिवार को कोरोना के 5000 से भी कम मामले आए और 89 मौतें हुई हैं। दिल्ली में कोरोना का पॉसिटिविटी रेट 7.24 है। दिल्लीवासियों और दिल्ली सरकार मिलकर कोरोना की इस तीसरी लहर पर जीत हासिल कर (Corona Alert) रही है। 

यूपी में 2 दिन बंद रहेंगी शराब की दुकानें, जानें वजह

जानें एक हफ्ते के आंकड़े-

दिल्ली में अगर पिछले एक हफ्ते के आंकड़ों की बात करें तो शनिवार को कोरोना के 4998 नए मामले सामने (Corona Alert) आए। शुक्रवार को 5482, गुरुवार को 5475, बुधवार को 5246, मंगलवार को 4454 और पिछले रविवार को 6746 नए मामले सामने आए थे। दिल्ली में 11 नवंबर को कोरोना संक्रमण के 8,593 नए केस सामने आए थे। यह शहर में अब तक किसी एक दिन में संक्रमण का सबसे ज्यादा आंकड़ा है। इसी तरह 18 नवंबर को दिल्ली में कोरोना से 131 मौतें हुईं जो हाइएस्ट सिंगल डे रेकॉर्ड है।

सात दिन में 2300 से ज्यादा बेड खाली-

राजधानी के अलग-अलग अस्पतालों में बीते सात दिन के अंदर 2329 बेड खाली हुए है। अस्पतालों में बेड खाली होने की संख्या भी धीरे-धीरे बढ़ रही है। 23 नवंबर को दिल्ली में 8089 बेड खाली थे जो 29 नवंबर को बढ़कर 10418 तक पहुंच गई। बता दें केजरीवाल सरकार में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन भी कोरोना से टक्‍कर ले चुके हैं। सत्‍येंद्र जैन के कोरोना प्रभावित होने के बाद उन्‍हें प्‍लाज्‍मा थेरेपी भी दी गई थी। 

नक्सलियों ने सुकमा में किया IED ब्लास्ट, CRPF के असिस्टेंट कमांडेंट शहीद

इससे पहले दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को कोरोना (CoronaVirus) हो गया था। हालांकि इलाज के बाद दोनों के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार हुआ और उन्‍होंने दोबारा सरकार में जिम्‍मेदारियां संभाल लीं। साथ ही इनमें मनीष सिसोदिया, सत्‍येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम शामिल हैं। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here