कोरोना के कारण विधानसभा चुनाव टालने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का जवाब

चुनाव टालने की मांग वाली याचिका डालने वाले याचिकाकर्ता अविनाश ठाकुर ने आग्रह किया था कि शीर्ष अदालत इस मामले में दखल दे.

0
305
Bihar Assembly Elections
कोरोना के कारण विधानसभा चुनाव टालने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला

Delhi: शुक्रवार को को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बिहार विधानसभा (Bihar Assembly Elections) चुनाव टालने की याचिका पर सुनवाई की. सुप्रीम कोर्ट ने साल के आखिरी महीनों में संभावित बिहार विधानसभा के चुनावों को टालने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया. कोर्ट ने कहना है कि कोरोनावायरस (Corona Virus) की वजह से बिहार में विधानसभा चुनाव नहीं रोके जा सकते. गौरतलब है कि विपक्ष लगातार बिहार चुनावों को लेकर दबाव बना रहा है. विपक्ष का कहना है कि कोरोना के चलते चुनावों को अभी टाल देना चाहिए. जिसको लेकर शीर्ष अदालत में याचिका दाखिल की गई. जिसे अदालत ने खारिज कर दिया है. कोर्ट का कहना है कि ‘कोविड (Covid19) के आधार पर चुनावों पर रोक और चुनाव आयोग की शक्तियों में दखल नहीं दिया जा सकता’.

यूजीसी गाइडलाइंस पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, राज्यों को दी ये सलाह

मामले में सुनवाई कर रही बेंच ने कहा कि ‘कोविड के आधार पर चुनावों (Bihar Assembly Elections) को टाला नहीं जा सकता, खासकर तब जब चुनाव आयोग की ओर से कोई अधिसूचना ही जारी नहीं की गई है. यह अदालत चुनाव आयुक्त को नहीं बता सकती कि उन्हें क्या करना है, वो खुद इन मामलों पर विचार करेंगे.’ कोर्ट ने कहा कि चुनाव आयोग सावधानी के लिए जरूरी कदम उठाएगा और हर पहलू पर विचार करेगा. इस याचिका को खारिज करते हुए कोर्ट ने कहा कि ‘यह प्रीमैच्योर याचिका है. कोई अधिसूचना जारी नहीं की गई है. हम ऐसे में चुनाव आयोग से चुनाव पर रोक लगा देने को कैसे कह सकते हैं? चुनाव टालने के लिए कोविड वैध कारण नहीं है.’

GST मुआवजे को लेकर वित्त मंत्री ने राज्यों को दिये ये दो विकल्प

आपको बता दें कि चुनाव टालने की मांग वाली याचिका डालने वाले याचिकाकर्ता अविनाश ठाकुर ने आग्रह किया था कि शीर्ष अदालत इस मामले में दखल दे और चुनाव आयोग से बिहार चुनाव पर रोक लगाने को कहे. उनकी यह भी मांग थी कि सुप्रीम कोर्ट बिहार में कोरोना के हालात पर बिहार आपदा प्रबंधन प्राधिकरण से रिपोर्ट मांगे. बता दें कि बिहार की विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने बीते रविवार को चुनाव टालने की अपनी मांग दोहराते हुए कहा था कि अगर कोरोना के बीच चुनाव कराए जाते हैं तो हर वोटर का बीमा होना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here