नेपाल की बारिश बनी बिहार के लिए खतरा

सीएम के निर्देश पर शुक्रवार को मुख्य सचिव दीपक कुमार ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से सबंधित जिलों के डीएम से बात की और बाढ़ पूर्व तैयारियों का जायजा लिया तथा जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

0
445
Flood Alert
File Picture

Patna: नेपाल (Nepal) और उत्तर बिहार के तराई क्षेत्रों में पिछले 24 घंटे से जारी बारिश के बाद नदियों के जलस्तर में फिर तेजी से वृद्धि होने लगी है। जिसके बाद बिहार (Bihar) के कई क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा (Flood Alert) मंडराने लगा है। जिसके तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने आपदा प्रबंधन विभाग को अलर्ट रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि तटबंधों के निकट रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेजने की पूरी तैयारी रखें। साथ ही जल संसाधन विभाग तटबंधों की सुरक्षा को लेकर अलर्ट मोड पर रहे। सीएम के निर्देश पर शुक्रवार को मुख्य सचिव दीपक कुमार ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से सबंधित जिलों के डीएम से बात की और बाढ़ पूर्व तैयारियों का जायजा लिया तथा जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

दिल्ली में स्टेट यूनिवर्सिटी एग्जाम को लेकर सरकार का बड़ा फैसला

मुख्य सचिव ने उत्तर बिहार व नेपाल में हो रही भारी बारिश के कारण नदियों के बढ़ते जलस्तर (Flood Alert) को देखते हुए संबंधित डीएम को निर्देश दिया कि दियारा और निचले इलाकों में रह रहे लोगों को वहां से निकालें। आसपास के क्षेत्रों में माइक या अन्य माध्यमों से लोगों को सतर्क करते रहें। एनडीआरएफ की टीम को तैनात रखें। इस बीच, जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कहा है कि बांध के भीतर व निचले इलाके में बसे लोगों को दूसरी जगह ले जाने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

आपको बता दें कि नेपाल और उत्तर बिहार में पिछले 24 घंटे से बारीश जारी है। कई नदियां उफन कर लाल निशान तक आ गई हैं तो कई खतरे के निशान को पार कर गई हैं। इससे कई जगह तटबंधों पर दबाव बढ़ गया है। बागमती का जलस्तर बढ़ने के बाद मुजफ्फरपुर के औराई व कटरा में तटबंध के बीच बसे करीब आधा दर्जन गांव में बाढ़ का पानी फैल गया है। जल संसाधन विभाग ने कई जिलों में तटबंध पर दबाव बढ़ने के बाद अलर्ट जारी कर दिया है। ​

अशोक गहलोत का बीजेपी पर सरकार गिराने की साजिश का आरोप

पिछले 24 घंटे में गंडक के जलग्रहण क्षेत्र नेपाल के पोखरा में 250.9 मिमी व भैरवा में 134.3 मिमी बारिश हुई है। इसके कारण गंडक के जलस्तर में काफी उछाल आया है। गंडक के जलस्तर में वृद्धि की आशंका को देखते हुए पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, वैशाली, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज व सारण के अधिकारियों को अलर्ट किया गया है। वहीं जलग्रहण क्षेत्र सिमरा में 128.4 व काठमांडू में 27.5 मिमी बारिश होने के बाद बागमती का जलस्तर भी बढ़ा है। ऐसे में सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, दरभंगा के अधिकारियों को अलर्ट किया गया है। ​

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here