किसान आंदोलन की ‘आग’ पहुंची बिहार, कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग

किसानों के प्रदर्शन का असर अब बिहार में भी दिखने लगा है। मंगलवार को यहां पटना में भी लोग सड़क पर उतर आए है।

0
281
Bihar Kisan Protest
किसान आंदोलन की 'आग' पहुंची बिहार, कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग

New Delhi: देश में जारी किसान आंदोलन (Kisan Andolan) आए दिन तेजी पकड़ता जा रहा है। राजधानी दिल्ली में चल रहा किसानों के प्रदर्शन का असर अब बिहार में भी दिखने लगा है। मंगलवार को बिहार की राजधानी पटना में भी लोग सड़क पर उतर आए है। यहां राज्य के अलग-अलग जिलों से आए किसानों ने नए कृषि कानूनों (Bihar Kisan Protest) का विरोध करते हुए राजभवन की ओर मार्च किया।

किसानों के साथ आज होनी थी बातचीत, एक दिन पहले बढ़ी तारीख

ये राजभवन मार्चअखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति और अन्य लेफ्ट संगठनों के सदस्यों द्वारा आयोजित किया गया है। इस दौरान पुलिस ने उनको रोकने के लिए लाठीचार्ज भी किया। जिसके बाद प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प भी हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक डाकबंगला से किसान आगे जाना चाहते थे, लेकिन पु्लिस ने उन्हें रोक लिया। जिसके बाद दोनों के बीच झड़प हो गई।

किसानों और पुलिस के बीच मची भगदड़ के दौरान कई महिला किसान सड़कों पर गिरकर चोटिल हो गई। जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए पीएमसीएच भेजा गया। इससे पहले सोमवार को इस प्रदर्शन (Farmers Protest) की जानकारी भारतीय किसान महासभा के बिहार प्रदेश सचिव रामाधार सिंह ने दी थी।

किसान संगठन केंद्र से बातचीत के लिए तैयार, इस दिन का भेजा प्रस्ताव

बता दें कि सरकार और किसानों के बीच पांच बार की बातचीत के बावजूद भी (Bihar Kisan Protest) कोई समाधान नहीं निकल पाया है। कुछ दिन पहले सरकार ने किसानों को 29 दिसंबर को सुबह 11 बजे बातचीत का प्रस्ताव भेजा था, लेकिन अब किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और सरकार के बीच अगली बैठक 30 दिसंबर को दोपहर 2 बजे (Farmers Law 2020) दिल्ली के विज्ञान भवन में होगी।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here