Bhima Koregaon Case: एनआईए ने 83 साल के फादर स्टैन स्वामी को किया गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने महाराष्ट्र में 2018 भीमा-कोरेगांव हिंसा के मामले में रांची के रहने वाले फादर स्टैन स्वामी को गिरफ्तार कर लिया।

0
214
Bhima Koregaon Case
एनआईए ने 83 साल के फादर स्टैन स्वामी को किया गिरफ्तार

Maharashtra: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने महाराष्ट्र में 2018 भीमा-कोरेगांव हिंसा (Bhima Koregaon Case) के मामले में गुरुवार को रांची के रहने वाले मानवाधिकार कार्यकर्ता फादर स्टैन स्वामी (Father Stan Swamy) को गिरफ्तार कर लिया। 83 वर्षीय फादर स्टेन स्वामी को झारखंड से गिरफ्तार किया गया है। कोरेगांव भीमा मामले की जांच कर रही एनआईए की एक टीम करीब 20 मिनट तक स्वामी के घर में रही। फिर उन्हें गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई। नामकुम स्टेशन परिसर में फादर स्टीन स्वामी को गिरफ्तार किया।

इससे पहले स्वामी ने भीमा-कोरेगांव केस (Bhima Koregaon Case) में किसी तरह की अपनी संलिप्तता से इनकार किया था। शुक्रवार को फादर को एनआईए कोर्ट में पेश किया जाएगा। उनको रिमांड पर भी लिया जा सकता है या फिर ट्रांजिट रिमांड पर उन्हें दिल्ली ले जाया जा सकता है। मूल रूप से केरल के रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता फादर स्टैन स्वामी करीब पांच दशक से झारखंड के आदिवासी क्षेत्रों में काम कर रहे हैं।

28 दिन बाद जेल से रिहा हुईं रिया, भाई शोविक की याचिका खारिज

बता दें कि इस केस में अब तक की बड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं, शिक्षाविदों और वकीलों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जो अपने ट्रायल का इंतजार कर रहे हैं। कई बीमारियों से जूझ रहे स्टैन स्वामी, इस केस में गिरफ्तार होने वाले सबसे उम्रदराज शख्स हैं। उनसे इस सिलसिले में पहले भी कई बार पूछताछ की जा चुकी है।

क्या हैं पूरा मामला ?

महाराष्ट्र के पुणे से 40 किलोमीटर दूर 1 जनवरी 2018 को कोरेगांव-भीमा गांव में एक कार्यक्रम में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। यहां दलित समुदाय के लोगों का एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था, जिसका कुछ दक्षिणपंथी संगठनों ने विरोध किया था। यलगार परिषद के सम्मेलन के दौरान इस इलाके में हिंसा भड़की थी।

जिसके बाद भीड़ ने वाहनों में आग लगा दी और दुकानों-मकानों में तोड़फोड़ की थी। इस मामले में नवलखा, तेल्तुम्बडे और कई अन्य कार्यकर्ताओं के खिलाफ माओवादियों से कथित रूप से संपर्क रखने के कारण मामले दर्ज किए थे।


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here