महिला साइक्लिस्ट को लगा जीत लिया गोल्ड मेडल, फिर ये क्या हुआ…

Annemiek van Vleuten को टोक्यो ओलंपिक्स 2020 Olympic Games Tokyo में बेहद नाटकीय क्षणों से गुजरना पड़ा।

0
366
Olympic Games Tokyo 2020
Annemiek van Vleuten को टोक्यो ओलंपिक्स 2020 Olympic Games Tokyo में बेहद नाटकीय क्षणों से गुजरना पड़ा।

टोक्यो ओलंम्पिक्स हो रहे खेलो के दौरान नीदरलैंड की एक साइक्लिस्ट महिला प्रतिभागी Annemiek van Vleuten को टोक्यो ओलंपिक्स 2020 (Olympic Games Tokyo 2020) में बेहद नाटकीय क्षणों से गुजरना पड़ा।  प्रतिभागी वेन व्ल्युटन को फिनिश लाइन पार करने के बाद लगा कि वे जीत चुकी हैं उन्होंने इसी खुशी में हवा में हाथ उठा दिए थे लेकिन वेन व्ल्युटन की ये खुशी मायूसी में बदल गई जब उन्होंने देखा कि उन्होंने टोक्यो ओलंपिक्स में गोल्ड नहीं जीता।

सवा मिनट का महत्व

प्रतिभागी महिला अपनी रेस में इतना मग्न थी कि उन्हें एहसास तक नहीं हुआ कि उनसे एक मिनट और 15 सेकेंड्स पहले ऑस्ट्रिया की एना प्रतिभागी  रेस पूरी कर चुकी थी। नीदरलैंड की महिला खिलाड़ी इतना निराश हुई कि रेस खत्म करने के बाद वे रोने लगी।

आपको बता दें कि ओलंपिक रेसों में खिलाड़ियों के पास रेडियो का असिस्टेंस नहीं होता है जिससे कि खिलाड़ियो को पता लगाने में मुश्किल होती है कि वे रेस में कौन सी पोजीशन पर हैं। ऐसा ही कुछ नीदरलैंड की इस मशहूर खिलाड़ी Annemiek van Vleuten के साथ हुआ।

वेन ने क्या कहा

Annemiek van Vleuten मुझे लगा कि मैं जीत गई हूं। लेकिन मैं गलत साबित हुई। जब मुझे इस मामले में सच्चाई पता चली तो मुझे लगा कि मैं कितनी बेवकूफ थी। दरअसल ये सब मिसकम्युनिकेशन के चलते हुआ,  लेकिन ये भी सच है कि सभी खिलाड़ियों की स्थिति मेरी जैसी ही थी। वेन कहती है कि अगर ऐसा ही चलता रहा तो मैं इस फॉर्म के साथ ही गोल्ड भी जीत सकती हूं मैं काफी गर्व महसूस कर रही हूं। 

Also Read: Tokyo Olympics 2021: मीराबाई चानू ने रचा इतिहास, भारत को मिला पहला मेडल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here