आईपीएल के लिए होटलों में ये होगी टीमों को ठहराने की व्यवस्था

साथ ही समय-समय पर खिलाड़ियों के कोरोना टेस्ट होंगे, और बायो-बबल तोड़ने पर सजा मिलेगी। आइपीएल के लिए बनाई गई बीसीसीआइ की एसओपी में भी ये गाइडलाइनस मौजूद हैं।

0
216
IPL Guidelines
आईपीएल के लिए होटलों में ये होगी टीमों को ठहराने की व्यवस्था

Delhi: इस साल कोरोना वायरस महामारी के बीच आयोजित होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) में काफी कुछ बदला-बदला नजर आएगा। आइपीएल (IPL) फ्रेंचाइडियों को टीम के खिलाड़ी और अन्य सदस्यों को ठहराने से लेकर स्वास्थ्य सुरक्षा तक तमाम चिंता है। इसी कारण बीसीसीआइ और फ्रेंचाइजियों ने फैसला किया है कि आठ टीमें अलग-अलग 8 होटलों में ठहरेंगी। साथ ही समय-समय पर खिलाड़ियों के कोरोना टेस्ट होंगे, और बायो-बबल तोड़ने पर सजा मिलेगी। आइपीएल के लिए बनाई गई बीसीसीआइ की एसओपी (IPL Guidelines) में भी ये गाइडलाइनस मौजूद हैं।

राहुल द्रविड़ एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है बीसीसीआई

साथ ही एसओपी (IPL Guidelines) में कहा गया है कि प्रत्येक फ्रेंचाइजी की मेडिकल टीम को सभी खिलाड़ियों की एक मार्च से अब तक की मेडिकल और यात्रा की जानकारी रखनी होगी। और सभी भारतीय खिलाड़ियों और सहायक स्टाफ को दो कोविड 19 पीसीआर टेस्ट कराने होंगे। टेस्ट निगेटिव आने पर ही यूएई जाने की इजाजत होगी। यह नियम विदेशी खिलाड़ियों पर भी लागू होगा। यूएई पहुंचने पर पहले, तीसरे और छठे दिन टेस्ट होंगे। वहीं, बीच टूर्नामेंट में भी प्रत्येक पांचवे दिन टेस्ट होगा। इसके साथ ही खिलाड़ियों को सुरक्षित माहौल छोड़ने की इजाजत नहीं होगी। ऐसा करने पर सजा भी दी जाएगी। कोई भी पॉजिटिव आने वाला खिलाड़ी 14 दिन तक क्वारंटाइन में रखा जाएगा।

‌IPL 2020: आईपीएल की तारीख हुई तय, इस दिन से खेला जाएगा मैच

8 अलग-अलग होटल में रुकने वाली टीमों के सदस्यों को एक अलग विंग में कमरे दिए जाएंगे। तीसरे टेस्ट के निगेटिव आने के बाद खिलाड़ी उचित दूरी बनाकर और मास्क पहनकर मिल सकेंगे। वहीं, खिलाड़ी अपने कमरे में खाना मंगा सकेंगे। उन्हें डाइनिंग एरिया में जाने की जरूरत नहीं होगी। बीसीसीआइ की आइपीएल को लेकर एसओपी में बताया गया है कि खाली स्टैंड को ट्रेनिंग और मैच के दौरान ड्रेसिंग रूम के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही मैच के बीच में होने वाली रणनीति बैठक भी मैदान की जगह इन खाली स्टैंड में हो सकेंगी। वहीं, खिलाड़ियों और सहायक स्टाफ के परिवार उनके साथ रह सकते हैं, लेकिन वे टीम बस में नहीं जाएंगे और उन्हें सुरक्षित माहौल को छोड़ने की अनुमति नहीं होगी।

Virat on online gamling: कोहली पर ऑनलाइन गैंबलिंग का आरोप, मद्रास हाई कोर्ट में याचिका दर्ज

एसओपी में बताया गया है कि वेन्यू क्रिकेट ऑपरेशन टीम ड्रेसिंग रूम के लिए सही जगह का चुनाव करेगी। वहीं, टीमों को भी टीम शीट के लिए हार्ड कॉपी की जगह इलेक्ट्रोनिक टीम शीट के इस्तेमाल के लिए कहा गया है। फ्रेंचाइजी स्कालेन हाइपरचार्ज कोरोना कैनोन भी लगा सकती हैं। इस मशीन में कम जगह वाले स्थान में फैले वायरस को खत्म करने की क्षमता है। वहीं, मेडिकल टीम भी खिलाड़ियों के संपर्क में आने के लिए पीपीई किट पहनेगी। खिलाड़ियों को होटल लौटने पर सबसे पहले नहाने की सलाह दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here