Lovlina Borgohain
लवलिना बोरगोहेन तुर्की की बुसेनाज सुरमेली से सेमीफाइनल में हार गई है। लेकिन भारतीय बॉक्सिंग में नया इतिहास लिखा है।

Tokyo Olympics 2020: 69 किलोग्राम वेट कैटेगरी में भारतीय मुक्केबाज लवलिना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) तुर्की की बुसेनाज सुरमेली से सेमीफाइनल में हार गई है। लेकिन लवलीना ने भारतीय बॉक्सिंग में नया इतिहास लिखा है। वे ब्रॉन्ज मेडल लेकर ही भारत लौटेंगी।

अगर लवलिना इस मैच को जीत जाती तो वे गोल्ड के करीब थी। साथ ही ओलिंपिक बॉक्सिंग के फाइनल में पहुंचने वाली भारत की पहली मुक्केबाज बनतीं, अब तक बेस्ट परफॉर्मेंस की वो पहले ही बराबरी कर चुकी हैं। विजेंदर सिंह 2008 में और एमसी मेरीकॉम 2012 में सेमीफाइनल तक का सफर तय कर चुकी हैं। 

Also Read: भालाफेंक स्पर्धा के फाइनल में भारत ने बनाई जगह, पहले ही प्रयास में सफल हुए Neeraj Chopra

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here