बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि IPL स्पॉन्सरशिप पर कर रही विचार

पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने कहा है कि हम इस साल आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप के बारे में विचार रहे हैं। पतंजलि ब्रांड को एक वैश्विक मंच पर ले जाना चाहते हैं।

0
311
PatanjaliIPL
बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि IPL स्पॉन्सरशिप पर कर रही विचार

New Delhi: योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि आईपीएल (IPL 2020) की स्पॉन्सरशिप (PatanjaliIPL) के लिए बोली लगाने पर विचार कर रही हैं। चीनी मोबाइल फोन निर्माता कंपनी वीवी के हटने के बाद यह फैसला लिया गया है। पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा कि हम आईपीएल (PatanjaliIPL) को इस साल टाइटल स्पॉन्सरशिप करने की सोच रहे हैं, ताकि पतंजलि को ग्लोबल मार्केट मिल सके।

कंपनी बीसीसीआई को प्रस्ताव (PatanjaliIPL) भेजने की तैयारी कर रही है। वहीं बीसीसीआई और वीवो ने भारत और चीन की सीमा पर हुई सैनिकों की भिड़ंत के कारण आईपीएल 2020 में अपनी पार्टनरशिप कैंसिल करने का फैसला किया था। बता दें कि वीवो ने 2018 से 2022 तक 440 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष के लिए आईपीएल का टाइटल का अधिकार जीता था।

आईपीएल के लिए होटलों में ये होगी टीमों को ठहराने की व्यवस्था

इसके अलावा BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने चीनी मोबाइल फोन कंपनी वीवो के साथ आईपीएल टाइटल स्पॉन्सरशिप डील के निलंबन को सिर्फ एक ‘झपकी’ बताया है। उन्होंने कहा, ‘मैं इसे वित्तीय संकट नहीं कहूंगा.’ गांगुली ने शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि यह थोड़ा धूमिल है। बीसीसीआई, यह एक बहुत मजबूत नींव है – खेल, खिलाड़ी, अतीत में प्रशासकों ने इस खेल को इतना मजबूत बना दिया है कि बीसीसीआई को ऐसी डील्स से टूटने पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है और इस तरह की स्थितियां संभालने के लिए बोर्ड पूरी तरह सक्षम है।

वहीं पतंजलि के आईपीएल 2020 की स्पॉन्सरशिप की खबर सामने आने के बाद से ही इसको लेकर सोशल मीडिया पर तमाम तरह के कमेंट आ रहे हैं जिसमें यूजर्स पतंजलि की खिंचाई कर रहे हैं।

जून की शुरुआत में बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद कोरोना वायरस की दवा कोरोनिल बनाकर काफी विवादों में आई थी। आयुष मंत्रालय ने इसकी बिक्री पर रोक लगा दी थी। उनका कहना था कि कोरोनिल इम्यूनिटी बूस्टर है, कोविड- 19 की दवा नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here