मकर संक्रांति पर क्यों खाई जाती है खिचड़ी, जानें इतिहास

मकर संक्रांति के दिन गंगा स्नान का बहुत महत्व होता है। इस मौके पर धर्मनगरी हरिद्वार में बड़ी संख्या में लोग जुटते है।

0
292
Makar Sankranti 2021
मकर संक्रांति के दिन गंगा स्नान का बहुत महत्व होता है। इस मौके पर धर्मनगरी हरिद्वार में बड़ी संख्या में लोग जुटते है।

Makar Sankranti: 14 तारीख को मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2021) के दिन गंगा स्नान का बहुत महत्व होता है। इस मौके पर धर्मनगरी हरिद्वार में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुटती हैं। हालांकि कोरोना वायरस के चलते इस बार जिला प्रशासन ने सख्ती बरती है। मकर संक्रांति के पर्व को लेकर हरिद्वार जिला प्रशासन ने एडवाजरी जारी कर दी है। मकर संक्रांति के पर्व को कुंभ का स्नान नहीं माना जा रहा है, इसीलिए इसे मेला प्रशासन (Makar Sankranti 2021) की बजाय जिला प्रशासन इसकी व्यवस्थाओं में जुटा हुआ है। 

इस दिन मनाई जाएगी मकर संक्रांति, जानें महत्व, पूजा विधि और परंपरा

क्यो खाई जाती है खिचड़ी-

बताया जाता है कि खिलजी के आक्रमण के बाद योगियों को खिलजी (Alauddin Khalji) से लड़ाई करने की वजह से खाना बनाने का वक्त नहीं मिला। इस वजह से योगी-महाराज ज्यादातर भूखे रहते थे। इस परेशानी का हल निकालने के लिए बाबा गोरखनाथ ने दाल, चावल और सब्जी को एक साथ पकाने की सलाह दी। ये व्यंजन काफी पौष्टिक और स्वादिष्ट था। इससे शरीर को उर्जा मिलतीथी। नाथ योगियों को यह व्यंजन काफी पसंद भी आया। तब जाकर बाबा गोरखनाथ ने इस व्यंजन का नाम खिचड़ी रख दिया। इसी वजह से बाबा गोरखनाथ के मंदिर के पास मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी मेला आरंभ होता है। 

साल 2021 में कब-कब और कितने ग्रहण लगेंगे, यहां जानें पूरी लिस्ट

बता दें कि कोरोना के बाद गंगा स्नान (Makar Sankranti 2021) का यह पहला बड़ा पर्व होगा, जिसमें श्रद्धालुओं को आने की छूट दी जा रही है। हालांकि इस दौरान प्रशासन ने कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करने को कहा है। कोरोना काल में इससे पहले जितने भी स्नान हुए हैं उन्हें किया ही नहीं गया। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने बताया कि मकर संक्रांति के पर्व को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। धर्मशाला और होटलों के लिए भी नई एडवाइजरी जारी कर दी गई है। नई एडवाइजरी के तहत आपको सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना होगा और मास्क पहन कर रखना होगा। 

रिलीजन से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Religion News In Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here