अपराधिक घटनाओं पर उपराष्ट्रपति का बयान, बोले-कानून बनाना समाधान नहीं…

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा, देश में बढ़ रहे दुष्कर्म के मामलों के लिए नए कानूनों को लाना समस्या का समाधान नहीं है।

0
458
M Venkaiah naidu

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा, देश में बढ़ रहे दुष्कर्म के मामलों के लिए नए कानूनों को लाना समस्या का समाधान नहीं है। उन्होंने कहा कि निर्भया कांड के बाद भी कानून लाया गया, लेकिन इसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ।

उपराष्ट्रपति ने पुणे में एक कार्यक्रम संबोधित करते हुए कहा, भारतीय परंपरा में हम महिलाओं को मां और बहन के रूप में मानते हैं, लेकिन हाल के दिनों में जो कुछ हुआ है, वह वास्तव में हम सभी के लिए शर्म और चुनौती वाली बात है।

नायडू ने कहा, नए कानून को लाना समस्या का समाधान नहीं है। मैं कोई नया कानून या बिल लाने के खिलाफ नहीं हूं। नायडू ने कहा कि हम निर्भया कांड के बाद बिल लेकर आए। क्या हुआ ? क्या समस्या हल हो गई है?

उपराष्ट्रपति ने कहा, भारत बदनाम हो रहा है। वेंकैया नायडू ने कहा किसी ने कहा है कि भारत ये … बन रहा है। शायद उपराष्ट्रपति का इशारा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के उस बयान की ओर था जिसमें उन्होंने कहा कि इंडिया रेप कैपिटल बन गया है।

नायडू ने बिना किसी का नाम लिए हुए कहा, मैं इन सब चीजों में उलझना नहीं चाहता। हमें कभी भी अपने देश को बदनाम नहीं करना चाहिए और अत्याचार के ऐसे मामलों में राजनीति में नहीं उतरना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here