महिलाओं का उत्पीड़न होगा या बढ़ेगी इज्जत और खुद्दारी, फैसला आपका: Indresh Kumar

0
213
महिलाओं का उत्पीड़न होगा या बढ़ेगी इज्जत और खुद्दारी, फैसला आपका: Indresh Kumar
महिलाओं का उत्पीड़न होगा या बढ़ेगी इज्जत और खुद्दारी, फैसला आपका: Indresh Kumar

मतदाता जागरूकता अभियान के दौरान इंद्रेश कुमार (Indresh Kumar) ने देश के प्रधानमंत्री और दिल्ली के मुख्यमंत्री का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति महिलाओं की इज्जत और प्रतिष्ठा में जुड़ा है तो दूसरा अपने ही दल की राज्यसभा सांसद को घर बुलाकर बुरी तरह पिटवाता है। अब आपने फैसला करना है निर्भया जैसी घटना की निंदा करना है या उसका महिमा मंडन करना है? उन्होंने कहा कि फर्क साफ है कि आपको कहां मतदान करना चाहिए। इस बीच, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने ऐलान किया है कि संविधान की रक्षा और राष्ट्र निर्माण के लिए वोट करें। मंच का मानना है कि देश में कट्टरता और हिंसा की कोई जगह नहीं है। यह बातें मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय संयोजक शाहिद अख्तर ने नई दिल्ली में मतदाता जागरुकता अभियान के दौरान कही।

संविधान की रक्षा और राष्ट्र निर्माण के लिए वोट करें: मुस्लिम राष्ट्रीय मंच

इस दौरान मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार ने प्रत्येक वोट की अहमियत बताई। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान दुनिया का सबसे बड़ा प्रजातांत्रिक देश है और डेमोक्रेसी में हर किसी को एक बराबर ताकत दी गई है जो इसका उपयोग करता है वह खुशनसीब है और जो नहीं करता है वह बदनसीब है।

इंद्रेश कुमार ने अपनी बात समझने के लिए हजरत मोहम्मद और कृष्ण का जिक्र करते हुए अपनी बात समझाई। उन्होंने कहा जंग इलाज नहीं बरबादी है, इसलिए कभी कभी हिजरत करना बेहतर होता है। इंद्रेश कुमार ने कहा कि इस वक्त दुनिया का एक बड़ा हिस्सा आपस में लड़ाई कर रहा है। लड़ने वालों में एक धर्म के लोग दूसरे धर्म से लड़ रहे हैं। कोई हिजरत नहीं कर रहा है, न पीछे हट रहा है। उन्होंने सवाल किया कि, ऐसे में तालीम, तरक्की, इंसानियत और विकास कैसे हो सकता है?

इंद्रेश कुमार ने कहा कि वो मानते हैं कि एक समय था जब बहुत सस्ता समान मिला करता था और आज महंगाई बड़ी है। लेकिन आपने यह भी देखना चाहिए कि आज लोगों की परचेजिंग कैपेसिटी बढ़ी हुई है। आमदनी बढ़ी है तभी तो परचेजिंग कैपेसिटी में “इंकलाब” आया है। यही कारण है कि आज 24 घंटे बिजली है, हर जगह पक्की सड़कें हैं, इन्फ्रास्ट्रक्चर बढ़ गया है, रेलवे ही नहीं हवाई मार्गों में भी अत्यधिक इजाफा हुआ है। स्वास्थ्य और शिक्षा में गुणवत्ता आई है। अब फैसला आपने करना है कि आपको तरक्की वाली आज की हुकूमत चुनना है या पुरानी पगडंडी वाली पिछड़ी सरकार चाहिए? आप को सोचना है कि दंगा मुक्त मुक्त बनाना है या दंगा युक्त देश बनाना है?

शाहिद अख्तर ने कहा कि भारत सरकार ने हर एक भारतीय को एक वोट का अधिकार दिया है और जो इस अधिकार का उपयोग नहीं करता है उससे बड़ी हिमाकत और नकारा कोई इंसान नहीं। शाहिद अख्तर ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का मानना है कि देश को तालीम, तरक्की और तहजीब की विरासत को आगे बढ़ाना है।

मतदाता जागरूकता अभियान में आए मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ताओं ने देश में हुए विकास पर रोशनी डाली। उन्होंने कहा कि आप देश के किसी भी नेशनल हाईवे पर चले जाएं आप को बेहतरीन सड़कें मिल जाएं। कार्यकर्ताओं ने कहा कि एक समय था जब मुस्लिम समाज का एक बड़ा हिस्सा झोपड़ पट्टी में रहता था लेकिन पिछले 10 वर्षों में देखा गया है कि अब मुस्लिम समाज का वो वर्ग प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत मिले पक्के मकान में रह रहा है।

कार्यकर्ताओं ने कहा कि एक समय था जब समाज का बड़ा तबका गांव और शहरों में खुले शौचालय और खेतों में जया करता था परंतु आज देश की दशा और दिशा बदल चुकी है। शहर शहर गांव गांव में इज्जत घर के रूप में शौचालयों का निर्माण हो चौका है। गांव में महिलाओं को उज्जवल योजना का लाभ मिला जिससे उन्हें अब लकड़ियों, कोयलों पर धूंआ में अपनी आंखें नहीं फोड़नी होती है।

इस दौरान मंच के सह संयोजक इमरान चौधरी ने कहा कि एक समय था जब मुसलमानों को हौव्वा दिखाया जाता था कि एक खास दल को वोट नहीं देना है क्योंकि अगर उस दल की सरकार बनी तो मुसलमान निस्त नाबूद हो जायेंगे। जो सरासर ग़लत है, भ्रामक है। क्योंकि देश ने देख लिया है कि किसकी सरकार में देश और मुसलमानों का चौतरफा विकास हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here