क्या चुनाव जीत पाएंगे ट्रंप, टाउन हॉल में जो बाइडेन से पिछड़े

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का असर कम होता नजर आ रहा है। ज्यादातर जगाहों पर वाइडेन से पीछे जाते हुए दिखाई दे रहे है।

0
116
US President Election Date
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का असर कम होता नजर आ रहा है। ज्यादातर जगाहों पर वाइडेन से पीछे जाते हुए दिखाई दे रहे है।

America: अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का असर कम होता नजर आ रहा है। ज्यादातर जगाहों पर वाइडेन से काफी पीछे जाते हुए दिखाई दे रहे है। अगर डोनाल्ड ट्रंप तीन नवंबर (US President Election Date) का राष्ट्रपति चुनाव हारते हैं तो 28 साल का रिकॉर्ड टूट जाएगा। अमेरिका में जैसे-जैसे चुनाव करीब आ रहे हैं वैसे-वैसे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी चुनावी रंग में रंगते जा रहे हैं।  

कोरोना से ठीक होने के बाद पहली बार जनता के सामने आए डोनाल्ड ट्रंप

कोरोना वायरस को पहले जैसी तवज्जो नहीं दे रहे। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पहले जहां ट्रंप कोरोना वायरस (US President Election Date) से संबंधित अपने काम को पूरा करने के लिए हर दिन वाइट हाउस के पोडियम पर नजर आते थे, अब ऐसा नहीं हो रहा। कोरोना वायरस से ज्यादा चुनाव में मशगूल दिखाई दे रहे हैं।

बता दें अगर ऐसा हुआ तो 1992 में जॉर्ज बुश (US President Election Date) सीनियर (George Bush) के बाद वे पहले राष्ट्रपति होंगे, जिन्हें दूसरा कार्यकाल नहीं मिल पाएगा।  सीनियर बुश एक कार्यकाल के बाद 1992 का चुनाव हार गए थे. उसके बाद डेमोक्रेट बिल क्लिंटन (Bill Clinton), रिपब्लिकन जॉर्ज बुश और डेमोक्रेट बराक ओबामा (Barack Obama) 8-8 साल राष्ट्रपति रहे हैं। ट्रंप अपना चार साल का एक टर्म पूरा कर चुके हैं अब देखना होगा की अपना राजनीतिक सफर आगे भी जारी रख पाएंगे या नहीं?   

ट्रंप और बाइडेन के बीच होने वाली दूसरी प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई कैंसल

अगर बाइडेन 2020 का चुनाव जीतते हैं तो उनके द्वारा उप राष्ट्रपति पद के लिए नामित कमला हैरिस  भी इतिहास रचेंगी। कमला हैरिस (Kamala Harris) भारतीय मूल की पहली महिला होंगी, जो अमेरिकी राजनीति में इस मुकाम तक पहुंचेंगी। हैरिस अभी कैलीफोर्निया की सीनेटर हैं। इसके अलावा पहले उपराष्ट्रपति माइक पेंस और कार्यबल के अधिकारी अपनी बैठकों के तुरंत बाद ट्रंप के कार्यालय जाकर उन्हें जानकारी देते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा। वाइट हाउस ने भी यह नहीं बताया है कि ट्रंप ने कार्यबल के अधिकारियों से आखिरी बार कब मुलाकात की थी। एक ओर जहां कोरोना वायरस संक्रमण अमेरिका में 2,15,000 लोगों की जान ले चुका है, वहीं दूसरी ओर ट्रंप लोगों से वायरस को ज्यादा तवज्जो न देने की बात कह रहे हैं।

 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here