CAA के खिलाफ जाफराबाद की सड़कों पर उतरी महिलाएं, सड़क पर लगाया जाम

0
505
प्रदर्शन करती महिलाएं

दिल्ली। पूर्वोत्तर दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास नागरिकता संसोधन कानून के खिलाफ 500 से अधिक लोगों ने विरोध प्रदर्शन शुरु किया है। शनिवार को शुरू हुआ ये प्रदर्शन रविवार को भी जारी रहेगा। प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर एंट्री और एक्जिट बंद कर दी है। यहां पर मेट्रो का स्टॉपेज भी रोक दिया गया है।

Jafrabad protest: जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर तैनात पुलिसकर्मी (फोटो- आजतक)

प्रदर्शन होने के कारण सीलमपुर को मौजपुर और यमुना विहार से जोड़ने वाला मार्ग संख्या 66 को बंद कर दिया गया है। प्रदर्शन के दौरान लोगों को परेशानी न हो या कोई अप्रिय घटना सामने न आए, इसे देखते हुए प्रशासन ने भारी सुरक्षा बलों की तैनाती भी की है। प्रदर्शनकारियों ने दावा किया है कि मौके पर एक भी महिला पुलिसकर्मी मौजूद नहीं है। प्रदर्शनकारियों ने आगे कहा कि यह नए नागरिकता कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के खिलाफ आंदोलन को और तेज करने के लिए है।

इस मामले में प्रदर्शनकारी शादाब ने कहा कि यह प्रदर्शन सीएए, एनआरसी के खिलाफ और दलितों को आरक्षण की मांग के लिए है। उन्होंने आगे कहा कि आंदोलन की अगुवाई महिलाएं कर रही हैं पुरुष सिर्फ उनका इस प्रदर्शन में साथ दे रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि विरोध प्रदर्शन के तहत हमने सड़क बंद कर दी है। हमारी मांग है कि केंद्र सरकार जबतक यह कठोर कानून वापस नहीं ले लेता तब तक हम यहां से नहीं हटेंगे। प्रदर्शन के दौरान कई महिलाएं हाथों में तिरंगा लिए दिखीं जिनकी मांग है कि सरकार सीएए वापस लें।

आपको बता दें कि शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों से सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार साधना रामचंद्रन की चौथे दिन की बातचीत भी बेनतीजा रही। इससे पहले लगातार चौथे दिन शनिवार सुबह वार्ताकार रामचंद्रन यहां पहुंचीं और उन्होंने प्रदर्शनकारियों को रास्ता खोलने के लिए समझाया। प्रदर्शनकारियों ने वार्ताकार के समक्ष सात मांगें रखते हुए कहा कि जब तक सीएए वापस नहीं लिया जाता, तब तक रास्ते को खाली नहीं किया जाएगा। हालांकि बाद में प्रदर्शनकारियों ने नोएडा-फरीदाबाद जाने वाला एक छोटा रास्ता खोल दिया जिससे लोगों को थोड़ी राहत मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here