काशी में डायरेक्टर ने बिजली आपूर्ति में बरती लापरवाही, सरकार ने डिमोट कर बना दिया इंजीनियर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बिजली आपूर्ति में लापरवाही बरतने पर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, वाराणसी में कई घंटों तक बिजली गुल रहने के आरोप के बाद योगी सरकार ने पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निदेशक अंशुल अग्रवाल को डिमोट कर इंजीनियर बना दिया है।

0
731

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बिजली आपूर्ति में लापरवाही बरतने पर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, वाराणसी में कई घंटों तक बिजली गुल रहने के आरोप के बाद योगी सरकार ने पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निदेशक अंशुल अग्रवाल को डिमोट कर इंजीनियर बना दिया है।

बता दें कि ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अंशुल अग्रवाल पर ये कार्रवाई बिजली आपूर्ति में लापरवाही के आरोपों के चलते की है। पहले अंशुल पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के टेक्निकल डायरेक्टर थे, लेकिन अब उन्हें डिमोट करते हुए इंजीनियर बना दिया गया है।

ये भी पढ़ें- केवड़िया में बोले PM मोदी- 370 ने जम्मू-कश्मीर को सिर्फ आतंकवाद दिया

आरोप है कि वाराणसी के चौधरी उप केंद्र से 7 जुलाई को 18 घंटे और 21 जुलाई को 36 घंटे बिजली गुल रही। इस पर श्रीकांत शर्मा ने त्वरित कार्रवाई करते हुए ये फैसला लिया। सरकार के मुताबिक सरकार सभी क्षेत्रों में पूरी तरह से बिजली देने के लिए कृतसंकल्प है और इसमें लापरवाही करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here