UP Byelection 2022: जानिए कौन है आजम खान के गढ़ में भगवा लहराने वाले घमश्याम लोधी ?

0
38

यूपी के रामपुर उपचुनाव में बीजेपी ने सपा का अभेद दुर्ग ढह दिया है. आजम खान के गढ़ रामपुर में बीजेपी ने भगवा लहराया है. यूं तो टक्कर बीजेपी और समाजवादी पार्टी में थी. लेकिन यहां आमने-सामने थे आजम खान के दो शागिर्द. ये दो नेता हैं आसिम रजा और घनश्याम सिंह लोधी. आसिम रजा समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रहे थे तो घनश्याम सिंह लोधी भगवा खेमे का प्रतिनिधित्व कर रहे थे.

आजम का शागिर्द और ढह गया किला

इन दोनों ही नेताओं ने आजम खान की छत्र-छाया में अपनी-अपनी सियासत को आगे बढ़ाया और सूबे की राजनीति में अपना मुकाम हासिल किया. यूं तो रामपुर कई सालों से सपा का गढ़ था और यहां आजम खान का सिक्का चलता था. लेकिन इस चुनाव में घनश्याम सिंह लोधी ने आजम खान के वर्चस्व को तोड़ दिया. घनश्याम सिंह लोधी ने सपा के आसिम रजा को 42192 वोटों से शिकस्त दी.

लोधी का सियासी सफर

जानकारी के लिए बता दे कि, घनश्याम सिंह लोधी ने अपनी सियासी जिंदगी में हर पार्टी के साथ प्रयोग किया है. उन्होंने राजनीति तो बीजेपी के साथ ही शुरू की लेकिन बीच-बीच में उनकी सियासी जिंदगी में भटकाव आता रहा. बीजेपी के बाद घनश्याम सिंह लोधी बसपा में गए. लोधी 2009 में बसपा से रामपुर सीट से लोकसभा का चुनाव लड़े मगर हार गए. इसके बाद वे कल्याण सिंह की पार्टी में पहुंचे फिर 2011 में समाजवादी पार्टी का दामन थामकर आजम खान के करीबी बन गए. जिसके बाद लगातार राजनीति में सक्रिय रहे और सपा को ही हार का रास्ता दिखा दिया.

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here