राज्यपाल के फैसले के खिलाफ SC पहुंची शिवसेना, इस वजह से अब तक सूचीबद्ध नहीं हुई याचिका…

महाराष्ट्र में शनिवार सुबह राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस को सीएम पद की शपथ दिलाई और एनसीपी के बागी नेता अजित पवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ दिलाई है।

0
860
महाराष्ट्र में CM पद का शपथ ग्रहण

महाराष्ट्र में शनिवार सुबह राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस को सीएम पद की शपथ दिलाई और एनसीपी के बागी नेता अजित पवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ दिलाई है।

अब शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इन तीनों पार्टियों ने अपनी याचिका में राज्यपाल के उस आदेश को रद्द करने की मांग की है, जिसमें उन्होंने सूबे में सरकार बनाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को आमंत्रित किया था। हालांकि, अभी तक इस याचिका को सूचीबद्ध नहीं किया गया है।

बीजेपी के खिलाफ एक जुट हुए तीनों दलों (शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी) ने सुप्रीम कोर्ट से याचिका के जरिए ये भी अपील की है, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को आदेश दिया जाए कि वो एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के गठबंधन को महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करें। जानकारी के अनुसार, इस याचिका को दाखिल करने के लिए शिवसेना के वकील ड्यूटी रजिस्ट्रार के घर पहुंचे हुए हैं।

गौरतलब है कि इस वक्त चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे दिल्ली से बाहर हैं। वह तिरुपति दर्शन के लिए गए हैं। कहा जा रहा है कि वकील याचिका दाखिल करने के लिए सीधे चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे के घर नहीं जा सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट में रजिस्ट्रार के जरिए ही याचिका दाखिल की जाती है।

महाराष्ट्र में नए ताजा घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस नेता और सीनियर वकील अभिषेक मनु सिंघवी भी अहमदाबाद से दिल्ली लौट रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाने के बाद महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी शनिवार शाम को ही दिल्ली पहुंच गए। वो राष्ट्रपति भवन में होने वाली गवर्नर्स कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेंगे। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अब सोमवार को मुंबई के लिए रवाना होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here