अब तक सुदीक्षा भाटी के आरोपियों का नहीं चला पता, वहीं पुलिस का छेड़खानी की बात से इनकार

सुदीक्षा भाटी की मौत के मामलें में एसपी द्वारा आरोपीयों का पता लगाने के लिए 20,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है। वहीं पुलिस ने इस मामले में छेड़छाड़ की बात से इनकार किया है।

0
233
Sudiksha Bhati Case
अब तक सुदीक्षा भाटी के आरोपियों का नहीं चला पता, वहीं पुलिस का छेड़खानी की बात से इनकार

Greater Noida: कुछ दिनों पहले सड़क हादसे में मौत हुई छात्रा सुदीक्षा भाटी (Sudiksha Bhati Case) की मौत को 80 घंटे से भी ज्यादा लंबा समय बीत चुका है। पुलिस लगातार इस मामले की जांच में लगी हुई है। लेकिन अभी तक मोटरसाइकिल सवार युवकों का पता नहीं चल पाया है। इस मामले में (Sudiksha Bhati Case) एसआईटी (SIT) समेत पांच टीमें जुटी हुई हैं। लेकिन, अभी तक कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

बुलंदशहर में दर्दनाक हादसा, छेड़खानी के दौरान अमेरिका में पढ़ने वाली छात्रा की मौत

इसी बीच बुलंदशहर पुलिस ने सुदीक्षा भाटी की मौत (Sudiksha Bhati Case) के मामले में छेड़छाड़ की बात से इनकार करते हुए गुरुवार को कहा कि कुछ लोग इस मामले का रुख बदलने की कोशिश कर रहे हैं। बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कुछ लोगों पर परिजनों को भड़काकर मामले को दूसरा रूप देने का आरोप लगाया है। एसएसपी के अनुसार पुलिस की जांच में अभी तक छेड़छाड़ का कोई मामला सामने नहीं आया है।

पिता ने 2.5 महीने की बेटी का किया सौदा, महज 40,000 रुपये में बेचा

वहीं इस मामलें में एसपी द्वारा आरोपियों का पता लगाने के लिए 20,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है। बता दें कि गौतमबुद्ध नगर जिले के दादरी की निवासी सुदीक्षा की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। दुर्घटना के समय वह अपने नाबालिग चचेरे भाई के साथ मोटरसाइकिल पर जा रही थीं। सुदीक्षा के परिवार का आरोप है कि मोटरसाइकिल सवार दो अज्ञात लोगों द्वारा उसका पीछा करने और छेड़छाड़ करने के चलते यह दुर्घटना हुई।

बीस साल की सुदीक्षा अकादमिक रूप से बेहतरीन छात्रा थीं। वह 3.80 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप पर अमेरिका के मैसाच्युसेट्स के बाबसन कॉलेज से पढ़ाई कर रही थीं। कोरोना महामारी के चलते वह इन दिनों अपने घर में ही थीं और 20 अगस्त को वापस अमेरिका जाने वाली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here