देश में विमान सेवा शुरू, हवाई यात्रा पर राज्यों ने जारी की ये गाइडलाइन्स

0
461
Air travel guidelines

लॉकडाउन के चौथे चरण में 25 मई से घरेलू उड़ान सेवा को भी फिर से शुरू करने किया गया है. हालांकि, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में अभी भी हवाई सेवा की शुरुआत नहीं हो रही है. करीब दो महीने के बाद घरेलू उड़ानों के टेकऑफ के लिए एयरपोर्ट पर विशेष तैयारियां की गई हैं.

एयरपोर्ट पर अब नए नियमों के साथ सब कुछ काफी कुछ बदला दिखाई दे रहा है. कोरोना संक्रमण से बचने के लिए एयरपोर्ट पर दो मीटर की दूरी और टचलेस सिस्टम को फॉलो किया जाएगा. हवाई यात्रा के संबंध में राज्य सरकारों ने अपने-अपने राज्यों के लिए कुछ गाइडलाइंस भी जारी की हैं.

हवाई सेवाओं पर ये हैं कुछ राज्यों के नियम-

हवाई सेवाओं पर यात्रा करने को लेकर तमिलनाडु के दिशा निर्देशों के मुताबिक, राज्य में आने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाएगी. सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. इसके लिए एयरपोर्ट पर खास इंतजाम किए गए हैं. यात्रियों के सामान को डिसइंफेक्ट किया जाएगा. एयरपोर्ट पर सभी अधिकारी पीपीई किट में रहेंगे. सबसे महत्वपूर्ण बात है कि राज्य में आने वाले सभी व्यक्ति को 14 दिनों के लिए क्वारनटीन में रहना होगा.

तमिलनाडु आ रहे यात्रियों को पहले सरकारी पोर्टल पर खुद को पास के लिए रजिस्टर करवाना होगा. वही पास उन्हें एयरपोर्ट पर दिखाना होगा, जिसके बाद एयरपोर्ट से बाहर जा सकेंगे. पास के लिए अप्लाई करते समय यात्री को अपने स्वास्थ्य का ब्यौरा भी देना होगा, यात्री को बताना होगा कि वह किसी कंटेनमेंट जोन से नहीं आ रहा है.

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में 28 मई से हवाई सेवा शुरू हो रही है. बंगाल सरकार ने भी गाइडलाइंस जारी की हैं. जिनमें कहा गया है कि एयरपोर्ट पर यात्रियों को अपना चेहरा ढंक कर रखना होगा. इसके अलावा हैंड हाइजीन और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का पालन भी करना होगा. सभी यात्रियों की हेल्थ स्क्रीनिंग की जाएगी उसके बाद ही उन्हें बोर्डिंग की इजाजत दी जाएगी.

एयरपोर्ट पर आने वाले यात्रियों की भी स्क्रीनिंग की जाएगी. एयरपोर्ट पर लोगों को सलाह दी जाएगी कि वे 14 दिनों तक अपने सेहत को मॉनिटर करते रहें और अगर कोई लक्षण दिखाई दे तो तुरंत स्थानीय मेडिकल ऑफिसर या राज्य के कॉल सेंटर पर सूचना दें. जिन यात्रियों में कोरोना के लक्षण नजर आएंगे उनका टेस्ट किया जाएगा. सभी यात्रियों को अपने स्वास्थ्य से जुड़ा एक घोषणापत्र भी देना होगा. एयरपोर्ट का सैनिटाइजेशन लगातार किया जाएगा और जगह-जगह सैनिटाइजर रखे जाएंगे.

दिल्ली सरकार ने भी अपनी गाइडलाइंस जारी की हैं. जिसमें कहा गया है कि यात्रियों का क्वारनटीन अनिवार्य नहीं होगा. बिना लक्षण वाले यात्रियों को सलाह दी जाएगी कि वह अगले 14 दिन तक अपने स्वास्थ्य को मॉनिटर करें. अगर उनमें कोई लक्षण आता है तो वह तुरंत डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर को सूचना दें.

जिन यात्रियों में कोरोना के लक्षण पाए जाएंगे उनको पास के अस्पताल में तुरंत ले जाया जाएगा और देखा जाएगा कि उनकी असल स्थिति क्या है. अगर पॉजिटिव पाए गए तो प्रोटोकॉल के हिसाब से इलाज होगा और यदि निगेटिव पाए गए तो उन्हें घर जाने की इजाजत होगी, लेकिन अगले 7 दिन आइसोलेशन में ही रहना होगा.

हवाई सेवा को लेकर केरल की गाइडलाइन-

केरल ने हवाई यात्रा को लेकर दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिसके तहत यात्रियों को covid19jagratha.kerala.nic.in पर रजिस्टर करना होगा. केरल पहुंचे यात्रियों को 14 दिनों तक क्वारनटीन रहना होगा. इसके अलावा तिरुवनंतपुरम से दूसरे जिलों तक जाने के लिए केरल परिवहन विभाग की बसें चलेंगी.

फ्लाइट से सफर करने वाले यात्रियों को 14 दिन के लिए होम क्वारनटीन रहना होगा. जिन लोगों को वापस लौटना है या फिर यहां से कहीं और जाना है उनके लिए क्वारनटीन अनिवार्य नहीं होगा, लेकिन उनको आगे की यात्रा की पूरी जानकारी देनी होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here