5 अगस्त को होगा राम मंदिर का भूमि पूजन, पीएम मोदी भी हो सकते है शामिल

राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चंद्रकांत सोमपुरा के अलावा उनके बेटे निखिल सोमपुरा भी आज की इस बैठक में शामिल हो सकते हैं.

0
516
Ram Mandir

Ayodhya: राम मंदिर (Ram Mandir) का भूमि पूजन किये जाने की तारीख तय हो चुकी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 5 अगस्त को भूमि पूजन का कार्य होगा. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी भी इस कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं. क्योंकि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास ने बताया था कि ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास ने प्रधानमंत्री को एक पत्र भेजकर आधारशिला रखने के मौके पर राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए उन्हें आमंत्रित किया है. हालांकि प्रधानमंत्री की उपस्थिति को लेकर अभी तक आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं मिली है.

इससे पहले राम मंदिर (Ram Mandir) को लेकर अयोध्या सर्किट हाउस में दोपहर 3 बजे श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की अहम बैठक शुरु हुई. इस बैठक में मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा भी रहें. आपको बता दें कि 16 जुलाई से नृपेंद्र मिश्रा अयोध्या प्रवास पर हैं. और मंदिर निर्माण की बारीकियों को देखने के लिए उनके साथ बड़े इंजीनियरों का एक दल भी अयोध्या में है. राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चंद्रकांत सोमपुरा के अलावा उनके बेटे निखिल सोमपुरा भी अयोध्या पहुंचे हैं जो आज (18 जुलाई) की मीटिंग शामिल हो सकते हैं.

Vikas Dubey Encounter: यूपी सरकार का सुप्रीम कोर्ट में जवाब, कही यें बात

कहा जा रहा है कि इस बैठक में मंदिर निर्माण (Ram Mandir) शुरू करने की तारीख पर मुहर लग सकती है. मंदिर निर्माण की तारीख को लेकर लगातार अटकलें चल रही हैं. महीने की शुरुआत में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजा था और राम मंदिर निर्माण के शिलान्यास समारोह में शामिल होने की अपील की थी.

इसके साथ ही बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण देने पर भी इस मीटिंग में चर्चा हो सकती है. हालांकि अभी तक पीएमओ से औपचारिक या अनौपचारिक तौर पर उनके अयोध्या कार्यक्रम को लेकर कोई बात सामने नहीं आई है. जबकि ट्रस्ट के सदस्य और अयोध्या के संत लगातार प्रधानमंत्री से अयोध्या आने को लेकर आग्रह कर रहे हैं. माना जा रहा है कि अगस्त में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का काम शुरू हो सकता है.

उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन पर योगी सरकार का बड़ा फैसला

इसके पहले उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या नगरी के लिए किए जा रहे विकास कार्यों का जायजा लिया. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अयोध्या नगरी का विकास इस प्रकार से किया जाए कि यहां आने वालों को कोई दिक्कत न हो. सीएम योगी ने कहा कि यातायात की व्यवस्था सुगम हो, इसके लिए सड़कों का चौड़ीकरण कराया जाए. साथ ही सड़कों के दोनों ओर सभी जनसुविधाओं जैसे-पेयजल, शौचालय इत्यादि की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए. दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए अलग-अलग जगहों पर मल्टी लेवल पार्किंग का निर्माण किया जाए. इसके अलावा अयोध्या में अंडरग्राउण्ड केबलिंग की व्यवस्था भी की जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here