Rajasthan Politics: बागी विधायक ने कांग्रेस प्रभारी पर साधा निशाना

सीएम अशोक गहलोत ने अपने विधायक दल की बैठक बुलाई थी, जिसमें व्हिप जारी करते हुए सभी विधायकों को बैठक में मौजूद रहने को कहा गया था.

0
524
Rajasthan Political Crisis
Rajasthan Political Crisis: जल्द थमेगा राजस्थान का सियासी तूफान ?

Rajasthan Politics: राजस्थान कांग्रेस में सचिन पायलट खेमे के विधायक भंवरलाल शर्मा ने राजस्थान कांग्रेस प्रभारी (Rajasthan Congress) को ही निशाने पर ले लिया है. बागी विधायक भंवरलाल शर्मा (Bhanwarlal Sharma) ने बागी विधायकों (Rebel MLAs) को नोटिस भेजने पर कहा कि प्रदेश कांग्रेस प्रभारी को संविधान की जानकारी नहीं है. भंवरलाल शर्मा ने कहा व्हिप सिर्फ विधानसभा में लागू होता है पार्टी विधायक दल की विधानसभा से बाहर बैठक में नहीं. शर्मा ने कहा कि राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी को संविधान की जानकारी नहीं है क्योंकि व्हिप के उल्लंघन का आरोप ही गलत है.

सचिन पायलट ने किया साफ, नहीं होंगे बीजेपी में शामिल

आपको बता दें कि बीते रविवार को (Rajasthan Politics) राजस्थान सचिन पायलट की ओर से दावा किया गया था कि उनके पास करीब 30 विधायकों का समर्थन है. इसके बाद सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सोमवार को अपने विधायक दल की बैठक बुलाई थी, जिसमें व्हिप जारी करते हुए सभी विधायकों को बैठक में मौजूद रहने को कहा गया था. लेकिन इस मीटिंग में न पायलट आए, न ही उनके खेमे के बागी विधायक. सोमवार को कांग्रेस की ओर से पायलट से वापस आकर बातचीत करने का ऑफर दिया गया और मंगलवार को फिर विधायक दल की बैठक रखी गई, लेकिन पायलट और उनके साथी विधायक फिर नहीं आए.

Rajasthan Politics: पार्टी से निकाले जानें के बाद सामने आया सचिन पायलट का ट्वीट

इस रुख पर कांग्रेस ने मंगलवार की शाम तक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पायलट को डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा दिया गया. वहीं दो कैबिनेट मंत्रियों- विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा के पद भी छीन लिए गए. बुधवार को पार्टी ने देरी न करते हुए बागी विधायकों पर भी कार्रवाई शुरू कर दी. इन विधायकों को अयोग्य ठहराने के लिए पार्टी शिकायत लेकर विधानसभा स्पीकर के पास पहुंची, जिन्होंने इन विधायकों को नोटिस भेजकर 17 जुलाई तक जवाब मांगा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here