राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को कहा ‘Surender Modi’

राहुल उन पर चीन के आगे समर्पण कर उस भारतीय क्षेत्र देने का आरोप लगा चुके हैं। माना जा रहा है कि वह सरेंडर लिखना चाहते थे।

0
446
NEET_JEE
NEET_JEE: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) जेईइ मेन का आयोजन 1 से 6 सितंबर के बीच करने जा रही है। वहीं नीट का आयोजन 13 सितंबर को होगा।

Delhi: भारत-चीन तनाव के मुद्दे पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार सरकार को घेर रहे हैं। रविवार को कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख (Ladakh) में चीन के साथ गतिरोध को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें नरेंद्र मोदी की बजाय ‘Surender Modi‘ कहा। राहुल उन पर चीन के आगे समर्पण कर उस भारतीय क्षेत्र देने का आरोप लगा चुके हैं। माना जा रहा है कि वह सरेंडर लिखना चाहते थे, लेकिन टाइपो हो गया है।

भारतीय सेना ने चीनी सेना अधिकारी को बनाया था बंधक : सूत्र

राहुल गांधी ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि नरेंद्र मोदी (Narendra modi) वास्तव में Surender Modi हैं… इस ट्वीट के साथ उन्होंने एक खबर शेयर किया है. आपको बता दें कि राहुल चीन के मामले को लेकर रोज पीएम मोदी को निशाने पर ले रहे हैं. जब उन्होंने कहा था कि मोदी ने भारतीय क्षेत्र में चीनी अतिक्रमण के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। उन्होंने यह बयान प्रधानमंत्री के यह कहने के बाद दिया था कि चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ नहीं की है।

कांग्रेस नेता अपने शनिवार के हमलावर रुख से एक कदम आगे निकल गए, शनिवार को राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय क्षेत्र चीन को सौंप दिया है. उन्होंने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री ने चीनी आक्रामकता के आगे भारतीय क्षेत्र को चीन को सौंप दिया है. कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि अगर यह भूमि चीन की थी तो हमारे सैनिक क्यों शहीद हुए? वे कहां शहीद हुए? गौरतलब है कि मोदी ने भारत-चीन तनाव पर शुक्रवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कहा कि न कोई हमारे क्षेत्र में घुसा और न ही किसी ने हमारी चौकी पर कब्जा किया है.

सेना के जवानों ने माइनस शून्य डिग्री पर ऐसे मनाया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

गौरतलब है कि 15 जून को पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में चीन के पीपल्स लिब्रेशन आर्मी के सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में एक अधिकारी सहित 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे, तब से विपक्ष सत्ता पक्ष पर लगातार निशाना साध रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here