संविधान दिवस पर बोले PM मोदी- हमारा संविधान वैश्विक लोकतंत्र की सर्वोत्कृष्ट उपलब्धि

पूरा देश 26 नवंबर को संविधान के 70 साल पूरे होने का जश्न मना रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन के सेंट्रल हॉल में लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। 70 साल पहले हमने इसे अपनाया था।

0
1346

नई दिल्ली: पूरा देश 26 नवंबर को संविधान के 70 साल पूरे होने का जश्न मना रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन के सेंट्रल हॉल में लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। 70 साल पहले हमने इसे अपनाया था।

पीएम मोदी ने कहा कि आज 26 नवंबर का दिन ऐतिहासिक दिन है। 70 साल पहले हमने विधिवत रूप से, एक नए रंग रूप के साथ संविधान को अंगीकार किया था। संविधान के दायरे में हमने कई सुधार किए, जो जरूरी थे।

वहीं, उन्होंने 26/11 के मुंबई हमलों पर बोलते हुए कहा, ’26 नवंबर दर्द भी पहुंचाता है, जब भारत की महान परंपराओं, हजारों साल की सांस्कृतिक विरासत को आज के ही दिन मुंबई में आतंकवादी मंसूबों ने छलनी करने का प्रयास किया था। मैं वहां मारी गईं सभी महान आत्माओं को नमन करता हूं।’

बता दें कि 26 नवंबर 1949 को ही देश में संविधान को अपनाया गया था। जबकि, 26 जनवरी 1950 को पूरे देश में इसे लागू किया गया था। तब से 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘हमारा संविधान वैश्विक लोकतंत्र की सर्वोत्कृष्ट उपलब्धि है। यह न सिर्फ अधिकारों के प्रति सजग रखता है, बल्कि हमारे कर्तव्यों के प्रति जागरूक भी बनाता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here