PFI से जुड़े 4 लोग गिरफ्तार, UP में माहौल बिगाड़ने का लगा आरोप

दिल्ली से हाथरस जा रहे एक संगठन से जुड़े चार युवकों को पुलिस ने‍ गिरफ्तार कर लिया है। इनका संबंध PFI से बताया जा रहा है।

0
192
PFI Fund Case
दिल्ली से हाथरस जा रहे एक संगठन से जुड़े चार युवकों को पुलिस ने‍ गिरफ्तार कर लिया है। इनका संबंध PFI से बताया जा रहा है।

Hathras: हाथरस केस में हर रोज नया मोड ले रहा है। पहले युवती की हत्या का मामला सामने आया, इस मामले में रेप हुआ या नहीं इस बात की पुष्टि (PFI Fund Case) अब तक नहीं हुई है। इसके बाद पुलिस प्रशासन परिवार को बताए बिना युवती का अंतिम संस्कार कर दिया, तब से देश में हंगामा मचा हुआ है। अब पुलिस ने जाति आधारित संघर्ष (PFI Fund Case) की साजिश रचने और सरकार की छवि को बिगाड़ने के प्रयास के आरोप में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। 

पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे आप सांसद संजय सिंह पर फेंकी गई स्याही

इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। प्रदेश भर में इस संबंध में कुल 21 मुकदमें दर्ज किये गये हैं। दिल्‍ली से हाथरस जा रहे एक संगठन से जुड़े चार युवकों को पुलिस ने‍ गिरफ्तार कर लिया है। इनका संबंध PFI से बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार (PFI Fund Case) पुलिस ने इन चार लोगों से मोबाइल, लैपटाप बरामद किया है, साथ ही शांति को भंग करने का आरोप लगाया हैं।

बता दे कि पुलिस उप निरीक्षक की तहरीर (PFI Payments) पर हाथरस के चंदपा थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 109, 124ए और 153-ए के तहत मामला दर्ज किया गया है। संशोधन अधिनियम 2008 के हिसाब से धारा 67 समेत कुल 20 (PFI Fund Case) धाराओं में रविवार को मुकदमा दर्ज किया गया है। 

हाथरस में भारी हंगामा, पुलिस ने सपा कार्यकर्ताओं पर भांजी लाठियां

दरअसल हाथरस की दुर्भाग्‍यपूर्ण घटना को लेकर कुछ अराजक तत्‍व भेजे गए थे। जिसकी वजह से आपराधिक षडयंत्र के तहत पूरे प्रदेश (PFI Payments) का अमन चैन बिगाड़ने और जाती को लेकर भड़काऊ भाषण देने से देश का महौल बिगाड़ा है। साथ ही पीड़ित परिवार को भड़का रहे हैं। पीड़ि‍त परिवार को गलत बयानबाजी के लिए दबाव डालकर उन्‍हें 50 लाख रुपयों का प्रलोभन देकर झूठ बोलने के लिए उकसा रहे हैं। इससे पहले दिये गये बयानों को बदलवाने का प्रयास कर हाथरस और प्रदेश की शांति को प्रभावित किया जा रहा है। 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here