सबको साथ मिलेगी सैलरी, ‘वन नेशन-वन पे डे सिस्टम’ लागू करने की तैयारी में मोदी सरकार

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सभी वर्गों के कर्मचारियों के हितों के लिए 'वन नेशन-वन पे डे सिस्टम' पर काम कर रही है। अगर यह सिस्टम लागू हो जाता है तो पूरे देश में विभिन्न सेक्टर में काम करने वाले हर वर्ग के कर्मचारियों को सैलरी भुगतान एक ही दिन किया जाएगा। श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने इसकी जानकारी दी।

0
825

नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सभी वर्गों के कर्मचारियों के हितों के लिए ‘वन नेशन-वन पे डे सिस्टम’ पर काम कर रही है। अगर यह सिस्टम लागू हो जाता है तो पूरे देश में विभिन्न सेक्टर में काम करने वाले हर वर्ग के कर्मचारियों को सैलरी भुगतान एक ही दिन किया जाएगा। श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने इसकी जानकारी दी।

श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने सेंट्रल एसोसिएशन ऑफ प्राइवेट सिक्युरिटी इंडस्ट्री की ओर से सिक्युरिटी लीडरशिप समिट 2019 में बोलते हुए कहा, ‘विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले कर्मचारियों को वेतन के भुगतान के लिए हर महीने एक दिन वेज-डे के लिए निश्चित होना चाहिए। केंद्र सरकार इस कानून को पास कराने के लिए काफी गंभीर है।’

 

इसके साथ ही सरकार कर्मचारियों की जिंदगी में सुधार के लिए यूनिफॉर्म मिनिमम वेज प्रोग्राम पर काम कर रही है। वहीं, व्यावसायिक सुरक्षा, हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशन कोड (OSH), कोड ऑन वेजेज को लागू करने की दिशा में भी काम किया जा रहा है। कोड ऑन वेजेज को संसद से पहले ही मंजूरी मिल चुकी है और अब इसके नियमों पर काम किया जा रहा है।

बता दें कि ‘वन नेशन-वन पे डे सिस्टम’ लागू होने के बाद सभी संगठित क्षेत्रों में काम कर रहे हर वर्ग के कर्मचारियों और मजदूरों को एक ही दिन सैलरी मिलेगी। अब तक देश में सैलरी को लेकर ऐसा कोई सिस्टम नहीं है। सभी कंपनियां और संगठन अपनी सहूलियत के हिसाब से कर्मचारियों को वेतन देते हैं। कंपनियां आमतौर पर 30, 31, 7 या 15 को सैलरी का भुगतान करती है, लेकिन ‘वन नेशन-वन पे डे सिस्टम’ लागू हो जाने के बाद सभी कंपनियों और संगठनों को अपने कर्मचारियों को एक ही दिन वेतन भुगतान करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here