कोरोना प्रकोप से सतर्क सरकार, क्या ‘जनता कर्फ्यू’ के दौरान बीच में ही रुक जाएंगी ट्रेनें ?

0
521
जनता कर्फ्यू

कोरोना वायरस को लेकर दुनिया भर में हाहाकार मचा हुआ है. अब इस महामारी से भारत के भी हालत बहुत नाजुक हो गए हैं. सरकारें आम लोगों से सोशल डिस्टेंस मेंटेंन करने को कह रही हैं, लेकिन सरकार के तमाम प्रयासों के बाद कुछ लोग लापरवाही करके खुद की और दूसरे लोगों की जान को जोखिम में डाल रहे हैं.

ऐसा ही ताजा मामला बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की लापरवाही का है. हालांकि, कनिका कपूर के खिलाफ लापरवाही के आरोप में लखनऊ के सरोजनी नगर थाने में शुक्रवार को एफआईआर दर्ज की गई है.

देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस संक्रमण के 50 नये मामले सामने आए हैं, जिसके बाद शुक्रवार शाम को कुल मामलों की संख्या 250 हो गई है. शनिवार दोपहर तक ये आंकड़ा बढ़कर 292 हो गया है. जबकि संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 6,700 से अधिक लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया है. ये जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से मिली है.

मंत्रालय ने बताया कि देश में COVID-19 से संक्रमित लोगों में 32 विदेशी हैं, जिनमें 17 इतालवी, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन और एक-एक कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर का निवासी है. इनमें दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में हुई चार मौतें भी शामिल है.

कोरोना वायरस के मामलों की संख्या –

देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस संक्रमण के 50 नये मामले सामने आए हैं. जिसके बाद शुक्रवार शाम को कुल मामलों की संख्या 250 हो गई है. शनिवार दोपहर तक ये आंकड़ा बढ़कर 292 हो गया है. जबकि संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 6,700 से अधिक लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया है. ये जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से मिली है.

मंत्रालय ने बताया कि देश में COVID-19 से संक्रमित लोगों में 32 विदेशी हैं, जिनमें 17 इतालवी, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन और एक-एक कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर का निवासी है. इनमें दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में हुई चार मौतें भी शामिल है.

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की थी। जिसके बाद कुछ लोगों में ट्रेनों के संचालन को लेकर असमंजस की स्थिति भी है। अगर आपको लग रहा है कि जो ट्रेनें चल रही होंगी उन्हें 22 मार्च को बीच में ही रोक दिया जाएगा. तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

जनता कर्फ्यू के दौरान कोई भी ट्रेन रास्ते में नहीं रुकेगी। भारतीय रेलवे 21 मार्च की रात 12 बजे से 22 मार्च रात 10 बजे तक अपने उदगम स्टेशन से चलने वाली पैसेंजर ट्रेन का संचालन बंद रखेगी।

गौरतलब है कि 21 मार्च की रात 11 बजकर 55 मिनट पर जो ट्रेन रवाना हो चुकी है वह पहले की तरह ही चलती रहेगी। मेल और एक्सप्रेस ट्रेन का 22 मार्च की सुबह 4 बजे से 22 मार्च की रात 10 बजे तक उदगम स्थान से ही परिचालन बंद रहेगा। लंबी दूरी की जो ट्रेनें 22 मार्च की सुबह 4 बजे से पहले ही खुल चुकी होंगी उनके परिचालन को बाधित नहीं किया जाएगा। वे सभी ट्रेनें अपने गंतव्य तक पहुंचेंगी।

जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के लिए रेलवे ने रविवार को देशभर में 3,700 ट्रेनों का परिचालन रद्द करने की घोषणा की. वहीं दूसरी तरफ देश की दो विमानन कंपनियों, इंडिगो और गोएयर ने करीब 1 हजार उड़ानें कैंसल करने का फैसला किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here