निर्भया केस: जेल प्रशासन ने दोषियों से पूछा- परिवार से कब करनी है मुलाकात

0
495

नई दिल्ली: निर्भया के चारों दोषियों को 3 मार्च सुबह 6 बजे फांसी की सजा होनी है। इससे पहले तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों को लिखित सूचना देकर कहा है कि उन्हें जब भी परिजनों से अंतिम मुलाकात करनी हो तो जेल प्रशासन को बता दें।

अब अगर निर्भया के दोषियों की फांसी टलती नहीं है तो दोषियों की परिजनों से ये आखिरी मुलाकात होगी। दरअसल, निर्भया के दोषियों की फांसी की सजा इससे पहले भी कई बार टाली जा चुकी है। पटियाला हाउस कोर्ट ने 17 फरवरी को दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी किया है।

बता दें कि कोर्ट के नए डेथ वारंट के अनुसार निर्भया के चारों दोषियों विनय कुमार शर्मा, मुकेश कुमार सिंह, अक्षय और पवन गुप्ता को 3 मार्च को फांसी होनी है। इन चारों दोषियों में से तीन की दया याचिका राष्ट्रपति भी खारिज कर चुके हैं। वहीं, चौथे दोषी पवन गुप्ता ने अब तक सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन और राष्ट्रपति के पास दया याचिका नहीं भेजी है।

3 मार्च को भी टल सकती है फांसी
ऐसे में अगर दोषी पवन गुप्ता अपने किसी भी विकल्प का इस्तेमाल करता है तो 3 मार्च को भी दोषियों की फांसी टाली जा सकती है। अब अगर पवन 29 फरवरी के बाद पिटीशन डालता है तो सुनवाई में समय लगने के कारण फांसी टल सकती है। वहीं, राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजने का विकल्प भी पवन के पास बचा रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here