निर्भया के दोषियों की फांसी का रास्ता साफ, 20 मार्च को ही होगी फांसी

0
1149

नई दिल्ली: निर्भया के दोषियों की फांसी 20 मार्च को तय हो गई है। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने दोषियों के डेथ वारंट पर रोक लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया है। अब दोषियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे ही फांसी की सजा दी जाएगी।

पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई के दौरान जबरदस्त ड्रामा हुआ। दोषी अक्षय कुमार की पत्नी पुनीता देवी ने जज के सामने ही रोना शुरू कर दिया। अक्षय कुमार की पत्नी ने निर्भया की मां आशा देवी के पैर छूकर कहा कि आप मेरी मां जैसी हैं इस फांसी को रुकवा लीजिए।

दोषी पवन की क्यूरेटिव पिटीशन SC में खारिज

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने दोषी पवन की क्यूरेटिव पिटीशन खारिज कर दी है। दोषी की ओर से इस याचिका में कहा गया था कि जिस वक्त ये अपराध हुआ, उस वक्त दोषी नाबालिग था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया है।

बता दें कि निर्भया के दोषियों को 20 मार्च सुबह 5.30 बजे फांसी की सजा होनी है। दोषियों के वकील एपी सिंह हमेशा से ही दोषियों को बचाने के लिए नए-नए तरीके खोजते रहे हैं। इसके लिए वह कोर्ट में भी हमेशा अंतिम समय पर ही आते हैं। इसके लिए बुधवार को हुई सुनवाई के दौरान दिल्ली की एक अदालत ने दोषियों के वकील से अंतिम समय पर आने की वजह भी पूछी थी।

जानकारी के लिए बता दें कि निर्भया के दोषियों को 20 मार्च सुबह पांच बजकर 30 मिनट पर फांसी की सजा दी जाएगी। इससे पहले भी कई बार दोषियों की फांसी की सजा मुकर्रर हो चुकी है, लेकिन हर बार दोषियों की सजा टाल दी गई। अब एक बार फिर 20 मार्च को दोषियों की फांसी के लिए चुना गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here