दिल्ली में इन नियमों के साथ शुरु होगी मेट्रो

परिवहन मंत्री ने बताया कि सारे प्रोटोकॉल्स को दोबारा देखने के बाद कल और परसों तक डीएमआरसी व ट्रांसपोर्ट अधिकारियों के साथ हमारी डिटेल में मीटिंग होगी।

0
329
Metro Guidelines
मेट्रो में नियमों की अनदेखी पर इतने लोगों पर लगा जुर्माना

Delhi: सात सितम्बर से एक बार फिर दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) के परिचालन करने की मंजूरी मिल गई है। दिल्ली मेट्रो परिचालन (Metro Guidelines) को लेकर दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gehlot) ने बताया कि मेट्रो स्टेशन में थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही अंदर आने देंगे और मास्क कंप्लसरी रहेगा, साथ ही टोकन बंद रहेगा और स्मार्ट कार्ड द्वारा ही लोग सफर करेंगे। इसके अलावा कंटेनमेंट ज़ोन्स के स्टेशन बंद रहेंगे और कुछ और स्टेशन भी बंद रहेंगे जिसकी लिस्ट जनता को दे दी जाएगी।

Mann Ki Baat: पीएम मोदी ने बताया चीन के क्लीन स्वीप का प्लान

दिल्ली के परिवहन मंत्री ने बताया कि सारे प्रोटोकॉल्स (Metro Guidelines) को दोबारा देखने के बाद कल और परसों तक डीएमआरसी (DMRC) व ट्रांसपोर्ट अधिकारियों के साथ हमारी डिटेल में मीटिंग होगी। शनिवार को अनलॉक चार (Unlock 4) में मेट्रो चलने की अनुमति मिलने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने ट्वीट किया कि वह दिल्ली मेट्रो का संचालन सात सितंबर से चरणबद्ध रूप से शुरू किये जाने की अनुमति मिलने से ‘खुश’ है।

Covid19 Update: देश में कोरोना का आंकड़ा 35 लाख के पार, एक दिन में रिकॉर्ड 78,761 नए केस

इससे पहले परिचालन की मंजूरी मिलने के बाद दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने एक बयान में कहा था कि अनलॉक-चार के तहत गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार दिल्ली मेट्रो सात सितम्बर से क्रमबद्ध तरीके से लोगों के लिए अपनी सेवाओं को फिर से शुरू करेगी। अधिकारियों ने बताया कि अगले कुछ दिनों में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा एक विस्तृत मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी किए जाने के बाद मेट्रो की कार्य पद्धति और आम जनता द्वारा इसके इस्तेमाल के बारे में विस्तृत जानकारी साझा की जाएगी।

श्रीनगर मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर, ASI बाबू राम शहीद

बात अगर नोएडा (Noida) की करें तो प्राप्त सूचना के अनुसार, नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (NMRC) की प्रबंध निदेशक रितु माहेश्वरी ने बताया था कि एक्वा लाइन पर सेवाएं केन्द्र सरकार के दिशा-निर्देश के अनुरुप शुरू होंगी। मेट्रो परिचालन के बाद दिल्ली मेट्रो में सबसे बड़ी चुनौती स्टेशनों पर भीड़ नहीं बढ़ने देने का है। इसके लिए भी कई बदलाव किया गया है। अब कुल 671 मेट्रो स्टेशन के प्रवेश निकास में से महज 38 फीसदी यानि 257 प्रवेश व निकास गेट खुलेंगे। वही मेट्रो स्टेशन पर भीड़ होने पर तुरंत प्रवेश को भी रोका जा सकता है। इसके लिए स्पेशल ड्यूटी पर कर्मी भी स्टेशन पर तैनात किए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here