पालघर मॉब लिंचिंग मामले में 110 लोग गिरफ्तार, सरकार ने दिए उच्च स्तरीय जांच के आदेश

0
614

मुंबई: महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु और उनके ड्राईवर की हुई मॉब लिंचिंग पर अब उद्धव ठाकरे सरकार ने उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है। इस मामले में कुल 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 101 लोगों को पुलिस कस्टडी में भेजा गया है, वहीं बाकी नाबालिगों को जुवेनाइल सेंटर होम भेजा गया है।

सरकार ने उच्च स्तरीय जांच के दिए आदेश
साधु की मॉब लिंचिंग के इस मामले को लेकर महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रविवार को इसकी जानकारी देते हुए ये चेतावनी भी दी कि इस घटना को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश न करें।


ये भी पढ़ें 20 अप्रैल से इन दुकानों और क्षेत्रों में मिलने वाली है छूट, देखें पूरी लिस्ट

क्या है पूरा मामला
जानकारी के मुताबिक बीते गुरुवार को देर रात करीब 200 लोगों ने दो साधु और एक ड्राईवर की मॉब लिंचिंग कर दी। पुलिस के मुताबिक लोगों ने इको वैन में बैठे दो साधु और उनके ड्राईवर को चोर समझकर पीट-पीटकर मार डाला। कासा पुलिस थाने के असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर आनंदराव काले ने बताया कि जब गुस्साई भीड़ ने साधुओं की गाड़ी को दधाडी-खानवेल रोड पर गधचिंचाले गांव के नजदीक रोका, तब वैन नासिक से आ रही थी। बताया जा रहा है कि ये साधु किसी के अंतिम संस्कार में जा रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here