देवेंद्र फडणवीस 80 घंटे तक रहे CM, इस्तीफे से पहले विपक्ष पर बोला हमला…

महाराष्ट्र में चल रही राजनीतिक उतल-पुथल के बाद आज मंगलवार को देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद इस्तीफा दिया, इससे महज कुछ घंटे पहले आज ही एनसीपी के बागी अजित पवार ने इस्तीफा दिया है।

0
752
Devendra Fadnavis Resign

महाराष्ट्र में चल रही राजनीतिक उतल-पुथल के बाद आज मंगलवार को देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद इस्तीफा दिया, इससे महज कुछ वक्त पहले आज ही एनसीपी के बागी अजित पवार ने इस्तीफा दिया है। अजित पवार के डिप्टी सीएम पद से इस्तीपा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना पर हमला बोला। उल्लेखनीय है कि देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने शपथ लेने के 78 घंटे के बाद इस्तीफा दिया है।

फडणवीस ने कहा, अब भाजपा के पास बहुमत नहीं है। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को ही महाराष्ट्र में 30 घंटे के भीतर फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था। कोर्ट के इस आदेश के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में नई सरकार बनाने वालों को शुभकामनाएं। हम विपक्ष में रहकर जनता के लिए काम करेंगे। फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के 80 घंटे बाद इस्तीफा दिया।

देवेंद्र फडणवीस ने इस्तीफा देने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे का ऐलान करते हुए शिवसेना पर हमला बोलते हुए कहा, भाजपा के पास अब बहुमत नहीं है। वहीं एनसीपी ने इसे जनता की जीत बताया है।

देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, जनता ने भाजपा-शिवसेना गठबंधन को बहुमत दिया था। उन्होंने कहा, ‘जनता ने बीजेपी को सबसे अधिक सीटें दी, हमें 105 सीटों का जनादेश मिला था। लेकिन शिवसेना ने धोखा दिया। हमने कभी भी शिवसेना से ढाई-ढाई साल के सीएम पद का वादा नहीं किया था। हमने शिवसेना का काफी इंतजार किया लेकिन शिवसेना ने कांग्रेस-एनसीपी से बातचीत शुरू कर दी थी।’

फडणवीस ने आगे कहा, शिवसेना ने अपना ही मजाक बना लिया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में देंवेंद्र फडणवीस ने कहा, तीनों दलों शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया था। 15 दिनों के बाद महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा था। इसके बाद एनसीपी नेता अजित पवार ने हमें सरकार बनाने का राजीनामा दिया था।

सीएम ने आगे कहा, अब हमारे पास बहुमत का आकड़ा नहीं है। फडणवीस ने कहा मैं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने जा रहा हूं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद मैं राज्यपाल को अपना इस्तीफा दूंगा। उन्होंने बाताया कि अजित पवार ने निजी काराणों की वजह से इस्तीफा देने की बात कही है। अब हम विपक्ष में काम करेंगे। अब हम महाराष्ट्र में बनने वाली नई सरकार को काम करना सिखाएंगे।

देवेंद्र फडणवीस ने आगे कहा ”महाराष्ट्र में नई सरकार बनाने वालों को मेरी शुभकामनाएं। लेकिन तीन पहियों वाली सरकार का चलना मुश्किल है। हमनें पांच साल बहुत मेहनत से काम किया है। उन्होंने कहा कि शिवसेना ने सीएम पद को लेकर हमें धमकाया था। तीनों दल सिर्फ सत्ता के लिए साथ आएं हैं। हमने विधयाकों के खरीद फरोख्त की कोशिश नहीं की है। 10 दिन में तीनों दल न्यूनतम साझा कार्यक्रम तय नहीं कर पाए थे।”

देवेंद्र फडणवीस ने आगे कहा, सरकार आगे बोझ तले दब जाएगी। सरकार के तीनों पहिये अलग दिशा में चलेंगे महाराष्ट्र में बनने वाली नई सरकार पर निशाना साधते हुए देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि इस सरकार के तीनों पहिये अलग-अलग दिशा में चलेंगे। अब हम विपक्ष में बैठेंगे और जनता के लिए काम करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here