अकेले पड़े अजित, NCP के खेमे में 53 विधायक, भतीजे को भी मनाने की कोशिश में चाचा पवार

महाराष्ट्र में भले ही देवेंद्र फडणवीस की सरकार बन गई हो, लेकिन अभी भी शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी सरकार बनाने की कवायद में जुटी हुई हैं। वहीं, राज्य के डिप्टी सीएम बने अजित पवार को वापस बुलाए जाने की पूरी कोशिश की जारी है। एनसीपी के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल सोमवार सुबह को अजित पवार से मुलाकात करेंगे।

0
927

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में भले ही देवेंद्र फडणवीस की सरकार बन गई हो, लेकिन अभी भी शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी सरकार बनाने की कवायद में जुटी हुई हैं। वहीं, राज्य के डिप्टी सीएम बने अजित पवार को वापस बुलाए जाने की पूरी कोशिश की जारी है। एनसीपी के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल सोमवार सुबह को अजित पवार से मुलाकात करेंगे।

बता दें कि एनसीपी प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार ने बीजेपी को समर्थन देकर देवेंद्र फडणवीस की सरकार बनवा दी और खुद डिप्टी बन गए, लेकिन अब एनसीपी का कहना है कि अजित पवार के साथ गए विधायक अब वापस आ गए हैं। दावा किया जा रहा है कि 54 में 53 विधायक शरद पवार के खेमे में आ गए हैं।

ये भी पढ़ें- मुंबई वापस लौटे NCP के लापता विधायक, शरद पवार पर जताया भरोसा

ऐसे में अजित पवार अब अकेले पड़ते नजर आ रहे हैं। शरद पवार की पार्टी लगातार उन्हें मनाने की कोशिश कर रही है। बता दें कि एनसीपी के जो विधायक लापता चल रहे थे, वह भी वापस मुंबई लौट चुके हैं। इन सभी विधायकों ने शरद पवार पर भरोसा जताया है।

ये विधायक लौटे वापस

एनसीपी के जो चार विधायक लापता हो गए थे, उनमें दौलत दरौडा, अनिल पाटिल, नरहरि झिरवल, और नितिन पवार शामिल थे। इनमें से दौलत दरौडा, अनिल पाटिल और नितिन पवार मुंबई लौट चुके हैं। इन तीनों ने ही शरद पवार पर भरोसा जताया है। अब बस नरहरि झिरवल का वापस मुंबई लौटना बाकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here