साहूकार नहीं मददगार बने सरकार, कर्ज नहीं मजदूरों को मिले राहत- राहुल गांधी

0
687

नई दिल्ली: लॉकडाउन और कोरोना महामारी के बीच केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है। केंद्र सरकार के इस राहत पैकेज को कांग्रेस के पूर्व नेता राहुल गांधी ने अपर्याप्त बताया है। राहुल गांधी ने कहा कि कर्ज के रूप में नहीं बल्कि सरकार को मजदूरों के खाते में सीधे पैसे भेजने चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा कि सड़क पर जो प्रवासी मजदूर पलायन कर रहे हैं, उन्हें कर्ज नहीं बल्कि पैसों को जरुरत है। बच्चा जब रोता है तो मां उसे लोन नहीं देती, उसे चुप कराने का उपाय निकालती है, उसे ट्रीट देती है। सरकार को साहूकार नहीं, मां की तरह व्यवहार करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here