28वें सेना प्रमुख बने मनोज मुकुंद नरवणे, बिपिन रावत ने दी बधाई

जनरल बिपिन रावत थल सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। अब उनकी जगह जनरल मनोज मुकुंद नरवणे नए सेना प्रमुख के पद का कार्यभार संभाला है। इस दौरान बिपिन रावत मौजूद रहें। अभी तक थल सेना में उप प्रमुख का पद संभाल रहे जनरल मनोज नरवणे देश के 28वें सेनाध्यक्ष बने हैं।

0
953

नई दिल्ली: जनरल बिपिन रावत थल सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। अब उनकी जगह जनरल मनोज मुकुंद नरवणे नए सेना प्रमुख के पद का कार्यभार संभाला है। इस दौरान बिपिन रावत मौजूद रहें। अभी तक थल सेना में उप प्रमुख का पद संभाल रहे जनरल मनोज नरवणे देश के 28वें सेनाध्यक्ष बने हैं।

बता दें कि थल सेना के उप प्रमुख बनने से पहले मनोज मुकुंद इस्टर्न कमांड के प्रमुख थे। इस्टर्न कमांड इंडिया और चीन के बीच 4000 किमी लंबी सीमा की देखभाल करती है। अब मनोज मुकुंद थल सेना के 13 लाख सैनिकों के मुखिया बन गए हैं।

मनोज मुकुंद के नए सेनाप्रमुख बनने पर बिपिन रावत ने उन्हें बधाई दी और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह सेना को और आगे ले जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि मनोज मुकुंद भी एक सेना प्रमुख के तौर पर अपने सभी दायित्व बखूबी निभाएंगे और सेना को और आगे लेकर जाएंगे।

ये भी पढ़ेंरिटायर हुए आर्मी चीफ बिपिन रावत, बोले- मुझे उम्मीद है मनोज मुकुंद सेना को और आगे लेकर जाएंगे

बता करें जनरल बिपिन रावत की तो वह मंगलवार को सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। अब वह 1 जनवरी से देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस के तौर पर कमान संभालेंगे। उन्होंने सेना प्रमुख के पद से रिटायर होने के बाद कहा कि बिपिन रावत बस एक नाम है, ये ओहदा सेना के सभी जवानों के सहयोग से बनता है।

नए सेना प्रमुख के बारे में
दुनिया की बड़ी सेनाओं में शुमार थल सेना के नए प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे के पास सेना में काम करने का लंबा अनुभव है। वह जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ किए गए ऑपरेशंस में भी अहम भूमिका निभा चुके हैं। उन्हें चीन के मामलों का भी एक्सपर्ट माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here