कोटा में अब तक 110 बच्चों की मौत, जांच कमेटी ने सौंपी अपनी रिपोर्ट, ये है बच्चों की मौत की वजह

राजस्थान के कोटा के जेके लोन हॉस्पिटल में बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। मरने वाले बच्चों का आंकड़ा 110 के पार पहुंच गया है। बच्चों की मौत के बढ़ते आंकड़े को देखते हुए राजस्थान सरकार ने जांच के लिए एक पैनल का गठन किया था। अब जांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट पेश की है, जिसमें बच्चों की मौत का कारण सामने आया है।

0
714

कोटा: राजस्थान के कोटा के जेके लोन हॉस्पिटल में बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। मरने वाले बच्चों का आंकड़ा 110 के पार पहुंच गया है। बच्चों की मौत के बढ़ते आंकड़े को देखते हुए राजस्थान सरकार ने जांच के लिए एक पैनल का गठन किया था। अब जांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट पेश की है, जिसमें बच्चों की मौत का कारण सामने आया है।

जांच पैनल में शामिल विशेषज्ञों ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि बच्चों की मौत हाइपोथर्मिया की वजह से हुई है। इसके अलावा अस्पताल में बुनियादी सुविधाओं की कमी के कारण भी ऐसा हो सकता है। अब तक कुल 110 बच्चों की मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें- डिप्टी सीएम पायलट ने CM अशोक गहलोत पर साधा निशाना, बोले-जिम्मेदारी से नहीं बच सकते

बता दें कि हाइपोथर्मिया एक ऐसी स्थिति होती है, जिसमें अचानक शरीर का तापमान जरूरत से ज्यादा कम हो जाता है। सामान्य तौर पर शरीर का तापमान 98.6 एफ (37 डिग्री सेल्सियस) होता है, लेकिन जब शरीर का तापमान इस अनुपात से कम हो जाता है, तो ये मौत का कारण बनता है।

गौरतलब है कि जब से राजस्थान के कोटा में बच्चों की मौत का मामला सामने आया है, जबसे सूबे की अशोक गहलोत सरकार कटघरे में है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी बच्चों की मौत के मामले को लेकर अशोक गहलोत पर जमकर निशाना साधा था। इतना ही नहीं, राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी कहा था कि किसी भी सूरत में जिम्मेदारी से बचा नहीं जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here