Kartik Purnima 2022 : कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी, जानें क्या है गंगा स्नान का महत्व

0
90
Kartik Purnima 2022
Kartik Purnima 2022

Kartik Purnima 2022 : कार्तिक माह का पौराणिक कथाओं में विशेष महत्त्व है। आज कार्तिक माह का आखिरी दिन है और आज ही के दिन कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा स्नान का भी महत्त्व है। कार्तिक पूर्णिमा के दिन श्रद्धालु नदी में स्नान करते है, स्नान के साथ दान-पुण्य और लक्ष्मी-नारायण पूजन भी की जाती है। कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा स्नान और तुलसी पूजा करने का विशेष महत्व बताया गया है। हिंदू धर्म में कार्तिक पूर्णिमा से सभी मांगलिक कार्य शुरू हो जाते हैं।

कार्तिक पूर्णिमा पर शुभ मुहूर्त

कार्तिक पूर्णिमा के एक दिन पहले देव दीपावली भी धूम- धाम से मनाई गई। बता दें की कार्तिक पूर्णिमा की तिथि की शुरुआत 7 नवंबर की शाम 04 बजकर 15 मिनट से हो गई है और इसका समापन 8 नवंबर की शाम 04 बजकर 31 मिनट पर होगा। उदयातिथि के अनुसार, कार्तिक पूर्णिमा आज मनाई जा रही है। कार्तिक पूर्णिमा पर आज चंद्र ग्रहण भी लग रहा है।

राम नगरी के मंदिरों में दर्शन-पूजन बंद

राम नगरी में 8:10 पर बंद हुआ मंदिरों का पट, राम जन्म भूमि, हनुमानगढ़ी कनक भवन नागेश्वरनाथ मंदिर समेत अयोध्या के सभी मंदिरों को बन्द किया गया। बता दें की आज शाम 5:10 से चंद्र ग्रहण लगेगा। चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक लगा। ग्रहण शाम 6:19 के बाद खत्म होगा ग्रहण। ग्रहण स्नान करने के पश्चात मंदिरों की धुलाई होगी और उसके बाद मंदिरों में आरती की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here