Kalonji ke fayde: यह काली चीज दे सकती है इस तरह के फायदे, थायरॉइड से लेकर स्किन की समस्याओं को दूर करने में करती है मदद

0
1088

Kalonji ke fayde: आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस काले बीज को खाने से आपकी सेहत को कई तरह से लाभ मिल सकते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम निगेला सतिवा है।

 

कलौंजी को काले जीरे या मंगरैल के नाम से भी जाना जाता है। यह पदार्थ मसाला अचार, सब्जी या कचौरियां आदि सभी चीजों को बनाने में काम आते हैं। ये तिल के आकार की छोटे बीज होते हैं, जिसका स्वाद हल्का कड़वा होता है। आपको बता दें कि इस काले बीज को खाने से आपकी सेहत को कई तरह से लाभ मिल सकते हैं। साथ ही इसका वैज्ञानिक नाम निगेला सतिवा होता है।

कलौंजी को अंग्रेजी में “Nigella seeds” भी कहा जाता है, एक पौधा है जिसके बीजों का उपयोग खाद्य पदार्थों में खासतौर पर स्वाद और खुशबू के लिए किया जाता है। कलौंजी का उपयोग विभिन्न प्रकार के भोजनों में किया जाता है, जैसे कि रोटी, सब्जी, और धानियों के ऊपर स्प्रिंकल किया जाता है। कलौंजी के औषधीय गुण भी होते हैं, इसे आयुर्वेदिक चिकित्सा में भी इस्तेमाल किया जाता है। यह गैस, एंटी-इंफ्लामेट्री, और एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण उपयोगी माना जाता है।

कुछ लोग कलौंजी का तेल भी उत्पादित करते हैं, जो कि शारीरिक समस्याओं को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। कुल मिलाकर, कलौंजी एक स्वास्थ्यकर और स्वादिष्ट वस्त्रवाला औषधि है, जो खाने में जोड़ा जा सकता है और आयुर्वेदिक चिकित्सा में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

कलौंजी का उपयोग

इस बीज का इस्तेमाल आयुर्वेदिक दवाईयों के लिए किया जाता है। एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन के आलावा और भी कई पोषक तत्व इसमें पाए जाते हैं।

– कलौंजी प्रोटीन,विटामिन्स, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल्स और डायटरी फाइबर से युक्त पदार्थ है, और यह इम्यून सिस्टम को मजबूत रखते है। इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर बनती  है।

– यह डायबिटीज कंट्रोल करने में भी मददगार होती है। इसके पोषक तत्व आपके शरीर में ब्लड शुगर को तरीकों से  मेंटेन करने में सहायता प्रदान करती हैं।

– कलौंजी में एंटी फंगल, एंटी इंफ्लामेट्री, एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं, जिसे बालों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता हैं। इस तेल को लगाने से डैंड्रफ की समस्‍या से राहत मिलता, साथ ही यह बालों को हेल्‍दी भी बनाता है और झड़ने से भी रोकता है।

– कलौंजी का मदद से डायट्री फाइबर युक्त होने और एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइनफ्लेमेट्री गुणों से भरपूर होने के कारण वजन कम करने में सहायता भी मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here