जामिया हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- पुलिस की ओर से नहीं की गई फायरिंग

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देशभर के कई हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन और भड़की हिंसा को लेकर सोमवार को दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस ने जामिया हिंसा की जानकारी देते हुए कहा कि पुलिस की ओर से फायरिंग नहीं की गई।

0
815

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देशभर के कई हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन और भड़की हिंसा को लेकर सोमवार को दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस ने जामिया हिंसा की जानकारी देते हुए कहा कि पुलिस की ओर से फायरिंग नहीं की गई।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एम. एस. रंधावा ने कहा कि प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की, इसके बाद पुलिस मने एक्शन लिया। शनिवार को जामिया के छात्र और कुछ स्थानीय लोग एकत्र हुए थे। इस दौरान कुछ लोग माता मंदिर मार्ग पर पहुंचे और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

पुलिस के मुताबिक इस दौरान होली फैमिली के पास प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें वापस खदेड़ने की कोशिश की। प्रदर्शनकारियों ने 4 डीटीसी बस को आग लगा दी गई और 100 से ज्यादा निजी वाहनों पर हमला बोला गया। इनमें चार दुपहिया भा शामिल हैं।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा कि इस घटना को लेकर बहुत सारी अफवाहें चल रही हैं, लेकिन मैं सभी से विशेष रूप से छात्रों से अपील करता हूं कि वे अफवाहों पर विश्वास न करें। इस घटना में जो भी शामिल है, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here