सेना के जवानों ने माइनस शून्य डिग्री पर ऐसे मनाया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

इस साल योग दिवस की थीम "सेहत के लिए योग - घर से योग" है। ताकि लोग घर में रहकर कोरोना से भी सुरक्षित रहे और कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में मदद मिले।

0
490
International Yoga Day
International Yoga Day

Delhi: चीन के साथ तनातनी के बीच एलएसी पर पूर्वी लद्दाख (Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में सरहद पर आईटीबीपी (ITBP) जवानों का योग दिवस (International Yoga Day) मनाया। इन दुर्गम इलाकों में जवानों ने 8000 और 14000 फीट की ऊंचाई पर योग किया।

सैनिकों ने बलिदान देकर चीन घुसपैठ नाकाम की : पीएमओ

भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBT) के करीब 2,000 अतिरिक्त जवानों को लद्दाख में भारत-चीन बॉर्डर (India China Border) पर अग्रिम स्थलों पर सतर्कता बढ़ाने के लिए तैनात किया गया है। यहां पर माइनस शून्य के तापमान में 18000 फीट की ऊंचाई पर जवान योग (International Yoga Day) करते नजर आए।

दूसरी तरफ उत्तराखंड (Uttarakhand) में भगवान बद्रीनाथ मंदिर (Badrinath Temple) से कुछ दूरी पर वसुधारा ग्लेशियर है। यहां पर इंडिया-चीन बॉर्डर है। यहां पर भी आईटीबीपी के जवानों की तैनाती की गई है। यह ऊंचाई जमीन से 14000 फीट पर है। यहां पर ग्लेशियर पर जवानों ने योग किया।

इसके अलावा लद्दाख का खारदुंग ला (Khardung La) समतल से 18000 फीट ऊंचाई पर खारदुंग ला है। यहां पर तैनात किए गए ITBP के जवान बर्फीले पहाड़ पर योगी करते नजर आए।

इस साल योग दिवस की थीम “सेहत के लिए योग – घर से योग” है। ताकि लोग घर में रहकर कोरोना से भी सुरक्षित रहे और कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में मदद मिले। हालांकि हमारे सेना के जवान घरों पर नहीं हैं। वे भारत के बॉर्डर पर तैनात हैं। बॉर्डर पर तैनात जवानों ने बर्फीले पहाड़ों पर योग किया।

Surya Grahan 2020: 21 जून को लगेगा खास सूर्य ग्रहण, 87 साल बन रहा है ऐसा संयोग

योग में विश्वगुरु भारत देश में पहला विश्व योग दिवस 21 जून 2015 को नई दिल्ली के राजपथ में मनाया गया था। आंकड़ों की मानें तो इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में करीब 35,985 लोगों ने एक साथ 35 मिनट तक तकरीबन 21 प्रकार के अलग-अलग योगासन किये थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here