India vs China: चीन के जासूसी गुब्बारों ने भारत को भी बनाया निशाना, अमेरिकी अखबार का दावा…

0
283
India vs China
India vs China

India vs China: अमेरिका ही नहीं भारत और जापान समेत कई देशों को चीन ने निशाना (China Spy Balloon) बनाकर जासूसी गुब्बारों को संचालित किया था। अमेरिका के एक मीडिया रिपोर्ट ने ये दावा किया है। (India vs China) यह रिपोर्ट ऐसे समय में सामने आई है, जब अमेरिकी सेना ने कुछ ही दिन पहले अमेरिका के संवेदनशील प्रतिष्ठानों के ऊपर मंडरा रहे एक चीनी निगरानी करने वाले गुब्बारे को नष्ट कर गिरा दिया था।

भारत समेत अपने अन्य मित्रों एवं सहयोगियों को अमेरिकी अधिकारियों ने चीन के इस गुब्बारे से संबंधी सभी जानकारी से अवगत कराया है। आपको बता दे, शनिवार को एक लड़ाकू विमान ने इस गुब्बारे को अटलांटिक महासागर के ऊपर साउथ कैरोलाइना के तट पर नष्ट कर दिया था। इस बारे में अमेरिका की उप विदेश मंत्री वेंडी शर्मन ने सोमवार को करीब 40 दूतावासों के अधिकारियों को ये जानकारी दी थी।

द वाशिंगटन पोस्ट का बड़ा दावा (India vs China)

मंगलवार को ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ ने बताया कि गुब्बारे से निगरानी के प्रयास के अंतर्गत चीन ने इन सभी देशो को रखा था, सैन्य संपत्तियों संबंधी जानकारी ‘जापान, भारत, वियतनाम, ताइवान और फिलीपीन समेत कई देशों और चीन के लिए उभरते रणनीतिक हित वाले क्षेत्रों में एकत्र की गई है।’

यह रिपोर्ट ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ कई अनाम रक्षा एवं खुफिया अधिकारियों के साक्षात्कार पर आधारित है। रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया  है कि चीन की पीएलए (पीपुल्स लिबरेशन आर्मी) वायु सेना द्वारा भेजी गई इन निगरानी यान को पांच महाद्वीपों में देखा गया है।

अन्य देशों की संप्रभुता का उल्लंघन

एक वरिष्ठ रक्षा अधिकारी के द्वारा कहा गया है, की ‘ये सभी गुब्बारे पीआरसी (चीनी जनवादी गणराज्य) के गुब्बारों के बेड़े का ही हिस्सा हैं, इन्हें एक निगरानी अभियान चलाने के लिए बनाया गया है (India vs China) और इसके तहत इन्होंने अन्य देशों की संप्रभुता का उल्लंघन किया है।’

दैनिक समाचार पत्र के मुताबिक, हाल के वर्षों में हवाई, टेक्सास, फ्लोरिडा और गुआम में कम से कम 4 गुब्बारे देखे गए और पिछले सप्ताह 4 गुब्बारे के अलावा एक गुब्बारा और देखा गया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here